पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

हादसा:फ्लाईओवर पर अचानक रफ्तार कम हुई तो कंटेनर के पीछे भिड़ गई कार, बोनट का हिस्सा फंसा, ढाई किमी घसीटती गई गाड़ी

राजनांदगांव2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

श्रेयांश फोटोग्राफी का शौकीन था। शनिवार की सुबह रिमझिम बारिश के बीच आसमान में बादल छाए हुए थे। इसी तस्वीर को अपने कैमरे में कैद करने के लिए श्रेयांश घर से निकला था। लेकिन फ्लाईओवर में हुए इस हादसे में उसकी जान चली गई। करीब सात बजे अपनी कार से घर से निकला। दुर्ग की दिशा में स्थित पंप में पेट्रोल डलवाया। इसके बाद करीब सवा 7 बजे रामदरबार चौक से नागपुर की दिशा में फ्लाईओवर पर गाड़ी डाली। श्रेयांश की कार गुरुद्वारा चौक के पास ही पहुंची थी, तभी सामने चल रहे कंटेनर ने अचानक रफ्तार कम की। इसी दौरान श्रेयांश की कार कंटेनर से टकरा गई। कार की स्पीड अधिक होने के चलते भिड़ंत में कार के बोनट का हिस्सा कंटेनर में बुरी तरह फंस गया। कंटेनर चालक के मुताबिक उसे पीछे कार फंसने की जानकारी तक नहीं लगी। कंटेनर चलता रहा और श्रेयांश की कार करीब ढाई किमी तक कार ऐसे ही घसीटती गई और श्रेयांश भीतर फंसा रहा। लोगोंं ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस टीम ने आरके नगर चौक में पहुंचकर कंटेनर को रुकवाया और श्रेयांश को हॉस्पिटल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने श्रेयांश को मृत घोषित कर दिया।

दो साल पहले हुई थी शादी, रक्षाबंधन में आया था राजनांदगांव
श्रेयांश की शादी दो साल पहले हुई थी। वह दो भाइयों में बड़ा था। फिलहाल वे रायपुर में रह रहे थे। श्रेयांश अपने रिश्ते की बहनों से राखी बंधवाने के लिए रक्षाबंधन के समय शहर पहुंचा था। इसके बाद दो से तीन दिन यहीं बिताने की इच्छा से रुका रहा। परिजनों ने बताया कि श्रेयांश को फोटोग्राफी का शौक था। इसी शौक के चलते वह शनिवार सुबह घर से निकला था। लेकिन हादसे में उनकी मौत हो गई।

पढ़िए कंटेनर रुकवाकर श्रेयांश को बाहर निकालने वाले आरक्षक की जुबानी...: ...मेरी ड्यूटी डॉयल 112 वाहन में थी। सुबह करीबन 07.30 बजे मूंदड़ा कुंज के सामने रोड में डायल 112 में थे। तभी देखा कि फ्लाई ओवर से ट्रक कंटेनर ओडी-01-आर 5213 दुर्ग तरफ से नागपुर तरफ जाने वाले रोड में चल रही है। जिसके पीछे आल्टो कार सीजी 07एआर-1300 कंटेनर के पीछे बॉडी में चिपकी हुई चली जा रही है। आरके नगर चौक में रुकवाया। देखा कि कार चालक सीट पर बैठा व्यक्ति घायल है। उसे जिला अस्पताल रवाना किया। आसपास के लोगों ने घायल की पहचान श्रेयांश चौरड़िया के रूप में की। (जैसा की आरक्षक वीरेंद्र यादव ने बताया)

बिलासपुर हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस पहुंचे
सूचना मिलने के बाद श्रेयांश के पिता बिलासपुर हाईकोर्ट के जस्टिस गौतम चौरड़िया पहुंचे। वहीं कामठी लाइन स्थित निवास स्थान में आईजी विवेकानंद सिन्हा, कलेक्टर टीके वर्मा, एसपी जितेंद्र शुक्ल सहित परिजन पहुंच गए। दोपहर में बिलासपुर हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस पीआर रामचंद्र मेनन सीधे मठपारा मुक्तिधाम पहुंचे। बिलासपुर के जज पी सैम कोशी, नीलमचंद्र सांखला, दीपक तिवारी, संजय अग्रवाल, अजय राजपूत, के एल गिड़ियानी आदि मौजूद रहे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- अध्यात्म और धर्म-कर्म के प्रति रुचि आपके व्यवहार को और अधिक पॉजिटिव बनाएगी। आपको मीडिया या मार्केटिंग संबंधी कई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, इसलिए किसी भी फोन कॉल को आज नजरअंदाज ना करें। ...

और पढ़ें