पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कवायद:2,83,947 होगी नए जिले की आबादी, नौ थानों और 185 पंचायतों में होंगे 499 गांव

राजनांदगांव4 दिन पहलेलेखक: संदीप साहू
  • कॉपी लिंक
आबादी के हिसाब से चौकी तो क्षेत्रफल में मानपुर होगा बड़ा ब्लॉक। - Dainik Bhaskar
आबादी के हिसाब से चौकी तो क्षेत्रफल में मानपुर होगा बड़ा ब्लॉक।
  • नवगठित मोहला-मानपुर-चौकी जिले के लिए प्रस्तावित नक्शे सहित पूरी जानकारी शासन को भेजी

राज्य शासन की घोषणा के बाद नवगठित मोहला-मानपुर-चौकी को जिले का स्वरूप देने अपनी ओर से प्रशासन ने तैयारी पूरी कर ली है। नए जिले के प्रस्तावित नक्शे के साथ पहला प्रपोजल राज्य शासन को भेज दिया गया है। नया जिला उत्तर बस्तर कांकेर के पखांजुर, दुर्गकोंदल, धनोरा महाराष्ट्र, तहसील डौंडी, डौंडीलोहारा और महाराष्ट्र के कोरची से घिरा होगा।

प्रस्तावित नए जिले मोहला-मानपुर-चौकी की कुल आबादी 2 लाख 83 हजार 947 होगी। इसमें नौ थाने शामिल किए गए हैं। 185 पंचायतों में कुल 499 गांवों को नए जिले में शामिल किया जाएगा। वर्तमान में राजनांदगांव की आबादी (जनगणना 2011 के अनुसार) 15 लाख 37 हजार 133 है। जिले के विभाजन के बाद राजनांदगांव जिले की आबादी घटकर 12 लाख 53 हजार 186 हो जाएगी।

नए जिले का भौगोलिक क्षेत्रफल दो लाख 14 हजार 667 हेक्टेयर होगा। क्षेत्रफल के लिहाज से सबसे बड़ा ब्लॉक मानपुर होगा। यहां का भौगोलिक क्षेत्रफल 89619 हेक्टेयर रहेगा। मोहला का 70301 व अंबागढ़ चौकी का क्षेत्रफल 54747 हेक्टेयर होगा। जनसंख्या के हिसाब से चौकी ब्लॉक बड़ा होगा।

  • नए जिले का कुल क्षेत्रफल 2 लाख 14 हजार 667 हेक्टेयर होगा
  • अलग होने के बाद नांदगांव जिले की प्रस्तावित जनसंख्या होगी 12 लाख 53 हजार 186
  • विधानसभा में अब बचेंगे 192 बूथ, 68 मतदान केंद्र भेजे जाएंगे नए जिले में

खुज्जी के 68 मतदान केंद्र नए जिले में शामिल होंगे

नवगठित जिले में 78-मोहला-मानपुर विधानसभा के सभी 237 बूथों को शामिल किया गया है। जबकि खुज्जी विधानसभा के 25 फीसदी बूथ नए जिले में शामिल होंगे। बताया गया कि 77-खुज्जी विधानसभा के 260 में से 68 बूथों को नए जिले में शामिल किया जाएगा। ये बूथ अंबागढ़ चौकी से लगे हुए हैं। खुज्जी विधानसभा के 68 बूथों को नए जिले में भेजने की तैयारी है।

अब दूरी की दिक्कत नहीं होगी, सुविधाएं भी बढ़ेंगी

फिलहाल जिला मुख्यालय से मानपुर तक जाने में 100 किमी लगते हैं। अब मोहला मुख्यालय होगा तो चौकी जाने 25 किमी और मानपुर जाने मोहला से उतनी ही दूरी तय करनी होगी। विकास भी तेजी से होगा और नक्सलवाद से मुक्ति भी मिलेगी। मोहला-मानपुर-चौकी नए जिले में कुल नौ थाने होंगे।

इसमें चौकी ब्लॉक में अंबागढ़ चौकी और चिल्हाटी, मोहला में मोहला थाना और मानपुर ब्लॉक में खड़गांव, मानपुर, कोहका, सीतागांव, मदनवाड़ा और औंधी थाने शामिल होंगे। इनमें ज्यादातर थानों में आईटीबीपी का बेस कैंप भी स्थापित है। जहां से पुलिस को नक्सलियों के खिलाफ लड़ने में काफी सफलता भी मिल रही है। आगे और सुविधाएं बढ़ेंगी।

63.27 की आबादी अनुसूचित जनजाति की

कुल जनसंख्या के हिसाब से अनुसूचित जनजाति नवगठित जिले में एक लाख 79 हजार 662 आबादी यानि कुल 63.27 फीसदी जनजाति की ही है। ये सबसे ज्यादा मानपुर में है। यहां 74.39 फीसदी आबादी जनजाति की है। इनकी संख्या 65 हजार 926 है। वहीं चौकी में 52 हजार 786 और मोहला में 60 हजार 950 आबादी जनजाति की है। चौकी में 48.73 और मोहला में 70.06 फीसदी आबादी इन्हीं की है।

नगरीय निकाय सिर्फ एक है, ये और बढ़ सकते हैं

नवगठित जिले में नगरीय निकाय सिर्फ एक है। यहां अंबागढ़ चौकी में ही नगर पंचायत है। जबकि मोहला और मानपुर में फिलहाल जनपद पंचायत हैं। आने वाले समय जिला गठित होने के बाद इस दिशा में भी नगरीय निकाय बढ़ाने प्रयास किए जाएंगे। इसका लाभ शहरी क्षेत्र के लोगों को मिलेगा। जिले में 226 कोटवार और 446 पटेल हैं। आबादी ग्राम 494, वीरान ग्राम 3 और डुबान ग्राम मात्र 2 रहेंगे।

जानिए, नए जिले के किस ब्लॉक में क्या प्रस्तावित

खबरें और भी हैं...