लत / पबजी खेलने से मना किया तो घर से भागा था श्रेयांश, मजदूरों के साथ किया सफर

X

  • बस में महाराष्ट्र के अमरावती तक पहुंच गया, मोबाइल लोकेशन से ट्रेस किए

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

खैरागढ़. खैरागढ़ के बरेठपारा से लापता हुआ 10 वर्षीय श्रेयांश पबजी खेलने से मना करने पर घर से भागा था। मजदूरों के लिए चल रही बस में सवार होकर वह महाराष्ट्र के अमरावती तक पहुंच गया। जहां से मोबाइल लोकेशन के आधार पर महाराष्ट्र व खैरागढ़ पुलिस की टीम ने उसे बरामद किया। 
शनिवार को एसपी जितेंद्र शुक्ला ने प्रेसवर्ता में पूरे मामले की जानकारी दी। एसपी शुक्ला ने बताया कि श्रेयांश अग्रवाल घर में पूरे समय पबजी गेम खेलता रहा था, घरवालों ने इसी का विरोध किया। जिससे वह नाराज होकर आधी रात घर से निकल गया। रात में ही उसे मजदूरों के लिए चल रही बस मिली। जिसमें उसे मजदूर परिवार का बच्चा समझकर उसे बैठा लिया गया। 
इसी बस के माध्यम से श्रेयांश अग्रवाल महाराष्ट्र के अमरावती पहुंच गया। इधर गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज होने के बाद खैरागढ़ पुलिस की टीम लगातार उसके मोबाइल लोकेशन को ट्रेस कर रही थी। पुलिस को श्रेयांस के अमरातवी इलाके के बुलढाना इलाके में होने की जानकारी मिली। जहां से उसे बुलढाना पुलिस की मदद से बरामद कर परिजन को सौंपा गया। 
लौटते ही होम क्वारेंटाइन किया गया
श्रेयांश घर से निकलने के बाद काफी देर तक मजदूरों के संपर्क में रहा है। मजदूरों के लिए चल रही बस में सफर भी किया। इसे देखते हुए एहतियात के तौर पर उसे होम क्वारेंटाइन किया गया है। खैरागढ़ पुलिस ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से उसे होम क्वारेंटाइन कराया गया है। घर से नहीं निकलने की हिदायत भी दी गई है। अगले 14 दिन तक वह घर पर ही क्वारेंटाइन रहेगा।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना