'BJP से इस्तीफा दें नेता, खेती-किसानी करें':नक्सलियों ने भाजपा नेताओं को पत्र लिखकर कही बात, केंद्र की नीतियों का किया विरोध

बीजापुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो। - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो।

छत्तीसगढ़ के बीजापुर जिले में माओवादियों ने भाजपा नेताओं को एक पत्र लिखा है। भैरमगढ़ एरिया कमेटी ने भाजपा नेताओं को हिदायत दी है कि वे पार्टी का साथ छोड़ दें। इस्तीफा दे दें। गांव में खेती-बाड़ी का काम करें। माओवादियों का आरोप है कि पैसों के लालच में जिले के गांव-गांव में प्रचार-प्रसार कर लोगों को जोड़ा जा रहा है। माओवादियों ने केंद्र की भाजपा सरकार की नीतियों का भी विरोध किया है।

भैरमगढ़ एरिया कमेटी की तरफ से जारी किए गए पर्चे में लिखा है कि, केंद्र में भाजपा की सरकार आने के बाद नोटबंदी, जीएसटी, महंगाई, बेरोजगारी, कृषि कानून लाकर किसानों को परेशान किया गया है। यही वजह है कि किसान आत्महत्या कर रहे हैं। बस्तर में कई पुलिस-नक्सली झूठी मुठभेड़ हुई है। कई ग्रामीणों को नक्सली बताकर फर्जी केस में जेल में डाल दिया गया है।

माओवादियों का पर्चा।
माओवादियों का पर्चा।

माओवादियों ने कहा कि, जल-जंगल-जमीन के अस्तित्व को खत्म करने के लिए बस्तर में जगह-जगह पर पुलिस कैंप खोले गए हैं। माओवादियों ने अपने पत्र में भैरमगढ़ इलाके के पोंदुम, फुलगट्टा, समेत अन्य गांवों के कुछ लोगों के नामों का जिक्र किया है और कहा है कि इन लोगों को पार्टी में शामिल किया गया है। अब ये लोग गांव-गांव पहुंचकर पार्टी में लोगों को जोड़ रहे हैं। माओवादियों ने जिस पत्र के माध्यम से ये सारी बातें कही है वह हाथ से लिखा हुआ है।