पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

बड़ा पेंच:छग सरकार ने 120.50 करोड़ की वित्तीय मंजूरी नहीं दी , इसलिए नई रेल लाइन का काम नहीं बढ़ा

बैकुंठपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • नागपुर-चिरमिरी रेल लाइन का कार्य दो वर्ष से अटका
  • अब लाइन बिछाने टेक्निकल सर्वे होगा, एसडीएम बोले- सर्वे रिपोर्ट आने पर भूमि अधिग्रहण प्रक्रिया शुरू करेंगे

अंबिकापुर-अनूपपुर रेल खंड में नागपुर हाल्ट से चिरमिरी तक 17 किमी नई रेलवे लाइन निर्माण का काम भूमि अधिग्रहण के बाद शुरू होना है। जब तक भूमि अधिग्रहण और मुआवजा नहीं बांटा जाता, तब तक नई लाइन निर्माण के लिए निविदा जारी नहीं की जाएगी। लेकिन प्रोजेक्ट के शुरुआती बिंदु पर ही बड़े पेंच नजर आ रहे हैं। दरअसल प्रोजेक्ट के लिए राज्य सरकार ने अब तक अपने हिस्से की 120.50 करोड़ रुपए की वित्तीय मंजूरी नहीं दी है। इससे प्रोजेक्ट को लेकर संशय की स्थिति बन रही है। वहीं प्रशासनिक अफसर भी प्रोजेक्ट को लेकर गैर-जिम्मेदाराना रवैया बरत रहे हैं। रेलवे अफसर जहां इसके लिए राजस्व अफसरों की तरफ से देरी बता रहे हैं तो वहीं राजस्व अधिकारी रेलवे की कमी गिना रहे हैं। बता दें कि नागपुर हाल्ट स्टेशन से चिरमिरी तक नई रेल लाइन बिछने से चिरमिरी तक आने वाली ट्रेनों का संचालन अंबिकापुर तक बढ़ाया जा सकता है। 241 करोड़ की रेल परियोजना को रेलवे बोर्ड ने 3 अक्टूबर 2018 को मंजूरी दी थी। भूमि अधिग्रहण के बाद निर्माण निविदा प्रक्रिया पूरी की जानी है, लेकिन एक साल से रेलवे और राजस्व अफसरों के बीच केवल पत्राचार चल रहा है। जबकि चिरमिरी, नागपुर हाल्ट नई रेल लाइन का सर्वेक्षण पूरा कर डीपीआर रेल मंत्रालय को 13 अगस्त 2018 को भेज दिया गया था। बता दें कि वर्तमान में चिरमिरी से रीवा, बिलासपुर, चंदिया सहित दुर्ग, रायपुर के लिए ट्रेनों का परिचालन हो रहा है। ऐसे में चिरमिरी से नागपुर हाल्ट तक लगभग 17 किमी लाइन बनने से चिरमिरी तक आने वाली ट्रेनों को अंबिकापुर तक बढ़ाया जा सकता है। लंबे समय से उठ रही मांग को देखते हुए इस लाइन को मंजूरी दी गई थी, लेकिन अफसरों के गैर-जिम्मेदाराना रवैये के कारण प्रोजेक्ट पर अब तक काम शुरू नहीं हो सका है। रेलवे अफसरों का कहना है कि प्रारंभिक सर्वे के साथ भूमि अधिग्रहण के लिए जिला प्रशासन व राजस्व विभाग से पत्राचार किया गया है। वहीं राजस्व विभाग ने रेलवे की ओर से की जाने वाले टेक्निकल सर्वे के बाद भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने की बात कही है।

पांच गांव से गुजरेगी 17 किलोमीटर रेल लाइन
रेलवे बिलासपुर के मुख्य प्रशासनिक अधिकारी व उपमुख्य अभियंता प्रमोद शाह के अनुसार नागपुर हाल्ट रेल लाइन के सर्वेक्षण में 17 किमी रेल लाइन बिछाने के लिए मनेंद्रगढ़ ब्लाॅक के ग्राम बनजी, छेरापानी, सरभोका, खेखना व बैकुंठपुर ब्लाॅक के ग्राम चित्ताझोर को चिंहित किया है। भूमि अधिग्रहण के लिए एसडीएम मनेंद्रगढ़ व एसडीएम बैकुंठपुर से पत्राचार किया है। साथ ही वन भूमि की जानकारी मंगाई गई है।

डीआरयूसीसी सदस्य का दो महीने से जारी है घंटानाद
इधर न्यू रेल लाइन प्रोजेक्ट के लिए राज्य शासन द्वारा अपने हिस्से की 50 फीसदी फाइनेंशियल फंड जारी करने की मांग को लेकर रेलवे डिवीजन बिलासपुर के पूर्व डीआरयूसीसी सदस्य विजय प्रकाश पटेल 25 अगस्त से घंटानाद मुहिम चला रहे हैं। वे रोज शाम 5 बजे मनेंद्रगढ़ गांधी चौक में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की तस्वीर के सामने घंटी बजा रहे हैं। पटेल का कहना है कि जब तक छग शासन अपने हिस्से का 120.50 करोड़ फंड रिलीज नहीं करती है वे घंटानाद करेंगे।

सरगुजा संभाग की 21 लाख आबादी सीधे मुंबई, हावड़ा से जुड़ जाएगी
चिरमिरी-अंबिकापुर-बरवाडीह रेल लाइन लाइन के विस्तार से सरगुजा संभाग की करीब 21 लाख से अधिक आबादी वाला जनजातीय बहुल इलाका सीधे मुंबई, हावड़ा से जुड़ जाएगा। इससे उप्र, बिहार व महाराष्ट्र व बिलासपुर के रेल मार्गों की अपेक्षा यहां की दूरी करीब 4 सौ किलोमीटर कम हो जाएगी। इससे जिले को आवागमन के अलावा व्यापारिक दृष्टि से बड़ा लाभ मिलेगा। क्योंकि सरगुजा संभाग खनिज संपदा से भरा है। प्रोजेक्ट को लेकर रेलवे बिलासपुर के डीआरयूसीसी सदस्य के.डोमरू रेड्डी ने बताया कि रेल लाइन के बनने से अंबिकापुर से चलने वाली सारी गाड़ियां चिरमिरी-मनेंद्रगढ़ होकर गुजरेंगी।

लेटलतीफी में लागत राशि बढ़ जाएगी
पूर्व विधायक व भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष श्याम बिहारी जायसवाल ने कहा कि प्रदेश में इस दौरान स्वीकृत अन्य रेल लाइन पर निर्माण कार्य शुरू हो चुके हैं। लेकिन जिले में लेटलतीफी से प्रोजेक्ट की लागत राशि बढ़ने पर संशय की स्थिति बनी हुई है। जिले के विकास में इस रेल लाइन से काफी गति मिलेगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें