पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

जेल में कोरोना ब्लास्ट:जेल में 198 बंदी और पहरेदार मिले संक्रमित दो बैरकों को अस्पताल बनाकर शुरू किया इलाज

अंबिकापुर/रामानुजगंज11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रदेश में पहली बार जेल में एक साथ इतने लोग मिले हैं संक्रमित

जिला जेल रामानुजगंज में जिले का अब तक का सबसे बड़ा कोरोना विस्फोट हुआ है। दो प्रहरी सहित 198 विचाराधीन बंदी कोराेना पॉजिटिव पाए गए हैं। अभी भी अन्य विचाराधीन बंदियों का रिपोर्ट आना बाकी है। विचाराधीन बंदियों के कोराेना पॉजीटिव पाए जाने के बाद शनिवार को कलेक्टर श्याम धावडे ने स्वास्थ्य अमले के साथ जेल का निरीक्षण किया। सेंट्रल जेल के अधीक्षक राजेंद्र गायकवाड़ ने भी जेल में बने कोविड-19 सेंटर का निरीक्षण किया। शनिवार को जहां 26 कोरोना पॉजीटिव विचाराधीन बंदी जिला जेल में पाए गए थे। यह आंकड़ा रविवार को बढ़कर 198 हो गया जिसमें 196 विचाराधीन बंदी एवं दो जेल प्रहरी हैं। सभी का रैपिड एंटीजन टेस्ट हुआ है। विचाराधीन कैदियों में कैसे संक्रमण फैला अभी तक इसका पता नहीं चल सका है। जेल प्रशासन के द्वारा कोरोना संक्रमण को देखते हुए विशेष एहतियात बरता जा रहा है। विकासखंड स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कैलाश एवं जिला जेल के नोडल अधिकारी डॉ. शरद चंद्र गुप्ता के नेतृत्व में स्वास्थ्य विभाग की टीम के द्वारा कोराेना पॉजीटिव मरीजों की सतत निगरानी की जा रही है।

क्षमता से दोगुने बंदियों को जेल में रखा जाता है
जेल में दो सौ बंदियों के लिए बैरक में सुविधा है, लेकिन इसके दोगुने बंदी और कैदी बैरकों में ठूस ठूसकर रखे गए हैं। इसकी वजह से वहां सोशल डिस्टेंस का पालन भी नहीं हो पा रहा था। इसके कारण भी जेल के अंदर एक साथ बड़ी संख्या में कोरोना के मरीज मिले हैं।

रात 2 बजे तक चलती रही जेल में कोरोना की जांच
जिला जेल में 26 कोराेना पॉजिटिव मरीज आने के बाद शनिवार की शाम 6 बजे से लेकर रात्रि 2 बजे तक स्वास्थ्य विभाग की टीम के द्वारा कोराेना टेस्ट किया गया। कलेक्टर श्याम धावडे ने कहा कि जेल के दो बैरक में विचाराधीन कैदियों को क्वारेंटाइन किया जा रहा है।

दूसरी बीमारी से पीड़ितों को अस्पताल में भर्ती कराएंगे
जिला चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ बसंत ने कहा कि जो कोराेना पॉजिटिव विचाराधीन कैदी की उम्र ज्यादा है, हाइपरटेंशन व शुगर के मरीज हैं, उन्हें कलेक्टर के मार्गदर्शन में आरागाही कोविड-19 केयर सेंटर भेजे जाने पर विचार किया जा रहा है।

लापरवाही के कारण संक्रमण फैलने की आशंका: जेल में कोरोना का संक्रमण न फैले इसके लिए वहां सभी आरोपियों को तभी जेल में दाखिला दिया जाता था जब उनका एंटीजन टेस्ट होता था, लेकिन इसमें लापरवाही की वजह से संक्रमण फैलने की आशंका है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थितियां आपके पक्ष में है। अधिकतर काम मन मुताबिक तरीके से संपन्न होते जाएंगे। किसी प्रिय मित्र से मुलाकात खुशी व ताजगी प्रदान करेगी। पारिवारिक सुख सुविधा संबंधी वस्तुओं के लिए शॉपिंग में ...

और पढ़ें