अंबिकापुर में घूम रहे 25 हाथी:शहर से सटे गांव के पास कर रहे विचरण, कई किसानों की फसलों को चौपट किया; दहशत में लोग

अंबिकापुर7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
इस झुंड में करीब 25 से 30 हाथी शामिल हैं। - Dainik Bhaskar
इस झुंड में करीब 25 से 30 हाथी शामिल हैं।

छत्तीसगढ़ के सरगुजा जिले में एक बार फिर से बड़ी संख्या में हाथियों का झुंड पहुंचा है। इस बार करीब 25 से ज्यादा हाथियों का झुंड अंबिकापुर शहर से लगे गांवों में पहुंच गया है। यहां इस झुंड ने कई किसानों की फसलों को चौपट कर दिया है। शहर के पास पहुंचने से यह आशंका जताई जा रही है कि यह कभी भी शहर के नजदीक पहुंच सकते है। वहीं इतनी बड़ी संख्या में हाथियों के पहुंचने से लोगों मेें भी काफी दहशत है।

हाथियों का झुंड काफी देर तक खेत में रहा।
हाथियों का झुंड काफी देर तक खेत में रहा।

जानकारी के मुताबिक, यह दल अब भी शहर से लगे गांव के जंगल में मौजूद है। वन विभाग को भी इस बात की जानकारी दी गई है। जिसके बाद वन विभाग की टीम लगातार इन पर नजर बनाए हुए है। वन विभाग की टीम ने लोगों को हिदायत दी है कि वह हाथियों के नजदीक नहीं जाएं। हाथी दल शहर की ओर रुख न कर जाए इसे लेकर वन विभाग की कवायद लगातार जारी है।

वन विभाग की के कर्मचारियों के अलावा डीएफओ और सीसीएफ तक मौजूद हैं। पुलिस टीम की भी ड्यूटी लगाई गई है। वन विभाग की टीम हाथियों को चेन्द्रा के जंगल मे खदेड़ने की कोशिश कर रही है। पता चला है कि यह दल सूरजपुर जिले से होते हुए यहां पहुंचा है। सोमवार सुबह मेड्राकला सैनिक स्कूल के पास भी इस दल को देखा गया है।

फसल चौपट करने के बाद हाथी जंगल की ओर गए।
फसल चौपट करने के बाद हाथी जंगल की ओर गए।

सोमवार सुबह लोग हाथियों के करीब पहुंच गए थे। लोग जान जोखिम में डालकर उनकी फोटो ले रहे थे। उधर, जिन किसानों की फसलों को हाथियों ने रौंदा है। वह किसान काफी परेशान हैं। बताया गया है कि इस झुंड में कुछ बच्चे भी शामिल हैं। फिलहाल वन विभाग इन पर नजर रख इन्हें जंगल की ओर खदेड़ने के प्रयास में है। लेकिन ग्रामीणों का कहना है कि हाथियों के पास के जंगल में होने के चलते वह कभी भी वापस आ सकते हैं। इससे पहले भी हाथी जिले में उत्पात मचा चुके हैं।

खबरें और भी हैं...