मांगे पूरी नहीं की तो स्वास्थ्य कर्मी हड़ताल करेंगे:7 दिन का दिया अल्टीमेटम, आंदोलन की तैयारी में जुटे कर्मचारी

मनेंद्रगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के मनेंद्रगढ़ ब्लाक अध्यक्ष प्रवीण कुमार सिंह ने शासकीय सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनेंद्रगढ़ के खंड चिकित्साधिकारी को ज्ञापन सौंपकर स्वास्थ्य कर्मचारियों की समस्याओं के निराकरण की मांग की है। ज्ञापन में कहा गया कि सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मनेंद्रगढ़ में बीईई का कार्य मेडिकल लैब टेक्नॉलॉजिस्ट (एमएलटी) सौमेंद्र मंडल से शासन की गाइडलाइन और नियमों के विपरीत कराया जा रहा है, जबकि यहां अनेक सुपरवाइजर पदस्थ हैं, जो बीईई पद के लिए निर्धारित अर्हता भी रखते हैं।

विभाग का आदेश है कि बीईई का पद रिक्त होने पर सुपरवाइजर को बीईई का प्रभार दिया जावे। दिनेश गुप्ता सुपरवाइजर को कार्य आदेश भी हुआ है, लेकिन प्रभार नहीं दिया गया है। संपूर्ण प्रभार हेतु आदेशित किए जाने की मांग की गई। वहीं कोविड जांच हेतु सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत कर्मचारियों को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कोरिया द्वारा कार्य मुक्त करने संबंधित आदेश जारी हो चुका है। उक्त प्रभार भी किसी सुपरवाइजर को देकर संंबंधितों को कार्यमुक्त किए जाने की मांग की गई। इसी प्रकार जीवनदीप समिति के अंतर्गत 4 कर्मचारियों को मजदूरी दर कलेक्टर दर पर भुगतान नियमित बजट से किया जा रहा है। जीवनदीप के अन्य कर्मचारियों को भी भुगतान मजदूरी दर पर दिया जाए।

सुपरवाइजर व्हीडी दुबे जून 2021 में सेवानिवृत्त हुए हैं, लेकिन 6 माह बाद भी उनके देयकों का भुगतान नहीं किया जा सका है। तत्काल भुगतान किए जाने की मांग की गई। ब्लाक अध्यक्ष ने अपने ज्ञापन में कहा कि एक सप्ताह के भीतर प्रभार की कार्रवाई एवं संबंधित कर्मचारी को राशि भुगतान नहीं होने पर कर्मचारी धरने पर बैठने के लिए विवश होंगे। ज्ञापन की प्रतिलिपि प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, संचालक स्वास्थ्य सेवाएं, कलेक्टर कोरिया, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, प्रांतीय महामंत्री स्वास्थ्य कर्मचारी संघ आदि को भी प्रेषित की गई है।

खबरें और भी हैं...