पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

घटना:सरकारी जमीन पर कब्जा को लेकर पार्षद ने महिला को पीटा, दोनों पक्षों पर केस, पार्षद को मुचलके पर छोड़ा

मनेंद्रगढ़8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • महिला के समर्थन में ग्रामीणों ने रैली निकालकर पुलिस चौकी का किया घेराव, गिरफ्तारी की सूचना पर माने

सरकारी जमीन में कब्जे को लेकर कांग्रेसी पार्षद, उसकी पत्नी और महिला के बीच मारपीट की घटना प्रकाश में आने पर खोंगापानी चौकी पुलिस ने दोनों पक्षों के खिलाफ केस दर्ज किया है। वहीं मामला दर्ज नहीं होने की आशंका पर बुधवार को महिला के समर्थन में लोगों ने बड़ी संख्या में रैली निकालकर पुलिस चौकी का घेराव किया। पुलिस द्वारा मामला दर्ज होने और गिरफ्तार कर जमानत मुचलके में छोड़ने की जानकारी देने पर भीड़ शांत हुई। नगर पंचायत खोंगापानी अंतर्गत सहवानी टोला निवासी पंचू बाई ने खोंगापानी पुलिस चौकी में इस आशय की रिपोर्ट दर्ज कराई कि 13 अक्टूबर सुबह 11 बजे पार्षद कमलभान चौधरी और उसकी पत्नी किरण चौधरी उसकी जमीन को अपना बताकर उस पर खाद गिराने जा रहे थे। मना करने पर दोनों ने उसके साथ गाली-गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी दी और डंडे से मारपीट की। मारपीट से उसके सिर और पीठ में चोट पहुंची है। पंचू बाई की रिपोर्ट पर पार्षद कमलभान चौधरी और पत्नी किरण चौधरी के खिलाफ आईपीसी की धारा 294, 506, 323, 34 के तहत मामला दर्ज किया गया। आरोपी पार्षद को गिरफ्तार कर जमानत मुचलके पर रिहा किया गया। वहीं पार्षद की पत्नी किरण चौधरी ने भी रिपोर्ट दर्ज कराई कि 13 अक्टूबर की सुबह 11 बजे वह अपने पति कमलभान चौधरी के साथ सहवानी टोला अपने खेत में खाद गिराने के लिए ट्रैक्टर लेकर जा रहे थे, उसी समय श्याम बाई के घर के पास पंचू बाई मिली और उसके खेत में जबरन कब्जा कर खाद गिरा रहे हो कहकर गाली-गलौज की और जान से मारने की धमकी देते हुए उसके द्वारा डंडे से मारपीट की गई, जिससे उसकी पीठ में चोट आई है। किरण चौधरी की रिपोर्ट पर पंचू बाई के खिलाफ आईपीसी की धारा 294, 506, 323 के तहत मामला दर्ज किया गया। बताया जाता है कि लगभग 4 माह पहले भी दोनों पक्षों में विवाद हुआ था, जिस पर पुलिस ने दोनों पक्षों के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की थी।

महिला ने पुलिस पर झूठा मामला दर्ज करने का आरोप लगाया
पीड़ित महिला पंचू बाई ने आरोप लगाते हुए कहा कि मेरे द्वारा बेची गई जमीन से ज्यादा पर पार्षद कमलभान चौधरी द्वारा कब्जा किया जा रहा है। रोकने पर पार्षद और उसकी पत्नी ने मेरे साथ मारपीट की। घटना की शिकायत थाने में करने पर पार्षद के खिलाफ कोई कार्रवाई न कर उल्टे पुलिस ने मेरे खिलाफ ही मारपीट का झूठा मामला दर्ज कर लिया है।

पार्षद ने कहा- 1 लाख में खरीदी थी महिला से सरकारी जमीन
पार्षद कमलभान चौधरी ने कहा कि उसके द्वारा वर्ष 2018 में महिला पंचू बाई से स्टांप पेपर पर गवाहों के समक्ष लिखा-पढ़ी कर 1 लाख रुपए में 1500 मीटर नजूल की सरकारी जमीन क्रय की गई है। मेरे द्वारा इसका जुर्माना भी तहसील न्यायालय में पटाया गया है। अब उक्त जमीन पर खेतीबाड़ी करने पर महिला द्वारा वाद-विवाद किया जाता है। पार्षद ने कहा कि प्लानिंग के तहत महिला ने उसकी पत्नी के साथ मारपीट की है। मेरे द्वारा बीच-बचाव किया गया है।

खबरें और भी हैं...