खाद्य विभाग की कार्रवाई:खराब डोसा परोसने पर जायसवाल होटल का लाइसेंस किया निरस्त

अंबिकापुर8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • एक दिन पहले खाद्य विभाग की टीम ने होटल में की थी जांच

खाद्य विभाग की ओर से की गई कार्रवाई में एक और होटल का लाइसेंस रद्द किया गया है। जिसमें वाड्रफनगर का जायसवाल होटल शामिल है। यहां पर डोसा खाने के कारण जिला पंचायत सदस्य के परिवार को फूड प्वाइजनिंग हो गई थी।

मालूम हो कि हाइवे के होटलों व ढाबों पर प्रदूषित खाना परोसे जाने की शिकायत पर बलरामपुर जिले के खाद्य अधिकारी नीतेश मिश्रा ने कार्रवाई की थी। जहां छत्तीसगढ़ ढाबे पर बासी खाना परोसे जाने और अखाद्य रंगों से लड्डू बनाए जाने का मामला सामने आने के बाद होटल का लाइसेंस निरस्त कर दिया गया था।

वहीं इसी क्रम में वाड्रफनगर के जायसवाल होटल का भी लाइसेंस निरस्त किया गया है। इसी होटल पर डोसा खाने के बाद कुसमी के जिला पंचायत सदस्य अंकुश सिंह के परिवार के 6 सदस्यों को फूड प्वाइजनिंग की शिकायत हुई थी। यहां से सूजी, तेल और बेसन के सैंपल भी भरे गए।

अखाद्य रंगों की सामग्री से हो सकता है कैंसर
छत्तीसगढ़ ढाबे पर मिले अखाद्य रंग से बने लड्डू आपके लिए जानलेवा भी हो सकते हैं। अधिकारियों ने बताया कि इन रंगों का उपयोग उद्योगों में, फर्नीचर के रंग-रोगन और पेंट इत्यादि बनाने में उपयोग किया जाता है। वहीं इस रंग के सेवन से कैंसर के साथ ही किडनी और लीवर खराब खराब होने की भी आशंका रहती है।

खराब सामग्री की विभाग के नंबर पर करें शिकायत
बलरामपुर के खाद्य अधिकारी नीतेश मिश्रा ने बताया कि हाइवे के होटलों व ढाबों पर अनियमितता की शिकायतें मिल रही थीं और जांच में व्यापक कमियां मिली हैं। दो होटल के लाइसेंस निरस्त कर प्रकरण दर्ज किया है। इसके अलावा किसी भी व्यक्ति को किसी होटल या ढाबे पर शिकायत मिलती है तो वह प्रदेश के टोल फ्री नंबर 9340597097 पर शिकायत कर सकता है।

खबरें और भी हैं...