पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

परेशानी:शाला विकास के नाम पर छात्रों से वसूले एक करोड़, अब तक नहीं लौटाए

रामानुजगंज11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • बलरामपुर में 130 स्कूलों में छात्रों से शाला विकास के नाम की गई वूसली

बलरामपुर जिले के 58 सरकारी हाई स्कूल व 72 हायर सेकंडरी स्कूल में सरकार के दिशा निर्देशों के बाद भी विद्यार्थियों से प्रवेश शुल्क व एएफपीबीएफ स्काउट, रेड क्रॉस, शाला विकास शुल्क, परीक्षा प्रायोगिक आदि के नाम पर करीब एक करोड़ का शुल्क लिया गया और राज्य सरकार के निर्देश के बाद भी उसे वापस नहीं किया गया है। अब छात्र संगठन एवं अभिभावक लिए गए फीस को वापस दिलाए जाने की मांग कर रहे हैं। अब तक स्कूलों के द्वारा फीस वापस करने के लिए कोई पहल नहीं की जा रही है जिससे अभिभावकों व छात्र संगठनों में आक्रोश है। कोरोना संक्रमण के कारण शिक्षण संस्थान बंद रहे जिसे देखते हुए संयुक्त संचालक लोक शिक्षण छत्तीसगढ़ के द्वारा विद्यार्थियों को स्थानीय निधि शुल्क नहीं लेने के दिशा निर्देश 2 सितंबर को जारी कर दिया था जबकि इसके बाद भी जिले के 74 हाई स्कूल एवं 58 हाई सेकंडरी स्कूल के द्वारा शुल्क ले लिए गए। जिसे वापस कर दिए जाने की बात कही गई परंतु किसी भी स्कूल के द्वारा फीस लेने के बाद वापस नहीं किया गया है। जिले में स्थिति यह है कि एक और जहां छात्र छात्राओं से अनावश्यक रूप से फीस की वसूली की गई है वहीं जब अभिभावकों को पता चला कि यह शुल्क अनावश्यक रूप से लिया गया है तो वह स्कूलों के चक्कर काट रहे हैं। वहीं प्राचार्य गोलमोल जवाब देकर अभिभावकों को वापस लौटा रहे हैं। अकेले रामचंद्रपुर विकासखंड में 10वीं 12वीं में 4000 छात्रों ने प्रवेश लिया है जिन से करीब 20 लाख रुपए की अवैध वसूली हुई है इस प्रकार से अगर पूरे जिला का आंकड़ा देखा जाए तो करोड़ों में जाएगा आखिर छात्र-छात्राओं से करोड़ों रुपए की अवैध वसूली हो गई परंतु अब तक जिला प्रशासन के द्वारा ठोस कार्यवाही अब तक नहीं हुई है।

हर ब्लाॅक में लाखों रुपए शुल्क की हुई है वसूली
जिले के छात्र छात्राओं से फीस के नाम पर एक करोड़ से अधिक की वसूली की गई है। सवाल उठता है कि इस पैसे को वसूलने के बाद किस खाते में रखा गया है एवं इसका ब्याज कौन ले रहा है। संबंधित प्राचार्य के द्वारा वसूली की गई परंतु रसीद नहीं दिया गया है। वहीं यदि वसूली कर ली भी गई थी तो दिशा निर्देश मिलने के बाद पैसा वापस नहीं किया गया।

छात्रों से ली गई शुल्क वापस दिलाने की है मांग
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के छात्र नेता आकाश तिवारी ने कहा कि बलरामपुर रामानुजगंज जिले के अधिकांश हाई स्कूल एवं हायर सेकेंडरी स्कूल में शासन के दिशा निर्देशों के बाद भी नामांकन एवं परीक्षा फीस के अलावा अन्य शुल्क भी ले लिए गए हैं, उसे वापस नहीं दिया जा रहा है, शुल्क वापस दिलाए जाने की मांग की है।

शिकायत आने का इंतजार सभी को पत्र भेज दिया
डीईओ बी एक्का ने कहा कि सिर्फ नामांकन एवं परीक्षा फीस लेना था। यदि हाई स्कूल एवं हायर सेकंडरी स्कूल के द्वारा अन्य फीस भी लिए गए हैं तो और उसे वापस नहीं किए जा रहे हैं, इस संबंध में अभिभावकों की शिकायतें आती है तो तत्काल संबंधित प्राचार्य के विरुद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी। इस संबंध में जो वरिष्ठ कार्यालय से पत्र आया था उसको संबंधित लोगों को भेज दिया गया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser