पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

गड़बड़ी:यूपी से आलू लेकर आने वाले ट्रकों में छग ला रहे धान, दलाल ने कहा- 13 सौ रुपए क्विंटल में जितना चाहिए मिल जाएगा

अंबिकापुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • यूपी से धान लाकर गोदाम में डंप कर रहे बिचौलिए, भास्कर रिपोर्टर ने बिचौलिया बनकर यूपी के दलाल से किया सौदा

दिलीप जायसवाल | छत्तीसगढ़ में धान खरीदी शुरू होने से पहले ही पड़ोसी राज्यों के बिचौलिया यहां बड़े पैमाने पर धान खपाने की तैयारी कर चुके हैं। यूपी से लाकर बिचौलियों ने अपने गोदामों में धान डंप कर लिया है। इसका खुलासा दैनिक भास्कर के स्टिंग ऑपरेशन में हुआ है। बिचौलिया ने समिति प्रबंधकों से मिलीभगत का भी खुलासा किया है। यूपी से धान आलू लेकर आने वाले ट्रकों से लाया जा रहा है।
लंबे समय से शिकायत मिल रही रही थी कि यूपी से पिछले एक माह से धान सहकारी समितियों में खपाने के लिए लाया जा रहा है। इसके लिए दलाल पुलिसकर्मियों को सेट करने की बात कर रहे हैं। इसकी तहकीकात के लिए दैनिक भास्कर रिपोर्टर ने बिचौलिया बनकर यूपी के बभनी के एक दलाल से संपर्क किया और रिकार्डेड बात की। उसने खुलासा किया कि वह एक सीजन में बीस हजार बोरा या जितना चाहिए उतना धान दे सकता है। बार्डर में सोर्स होगा तो बार्डर पार कर सकते हैं। जब हमने वाड्रफनगर समिति प्रबंधक का हवाला देकर दलाल से बात की तो उसने कहा कि उसके साथ हमने बहुत धंधा किया है। उनको पहले एक करोड़ तक का धान दिया हूं।

पिकअप बदनाम, आलू वाले ट्रक में अच्छा रहेगा
बातचीत में दलाल ने खुलासा किया कि हम धान पिकअप में भेजते थे। अब पिकअप बदनाम हो गया है। ट्रक में तिरपाल इस तरह लगाइए कि पता ही न चले और यूपी से आलू लेकर जाने वाले ट्रकों में धान जाता है। पीछे कुछ बोरी आलू भर दीजिए और अंदर धान रखकर चला जाएगा। इसके अलावा खाली बड़े ट्रक में 100-150 बोरी धान देखने से ऐसे भी पता नहीं चलता है। इस तरह धान के दलाल ने सख्ती और कर्मचारियों के सेट नहीं होने के बाद भी तस्करी के लिए दो उपाय बताए।

हमें यूपी में कोई आंख तक नहीं दिखाएगा
स्टिंग में जब हम धान लेने के लिए तैयार हो गए तो दलाल ने बार्डर में ड्यूटी करने वाले पुलिसकर्मियों से बात की। इस पर पुलिस कर्मी तस्करी में जिला प्रशासन और दूसरे अफसरों की तैनाती पर साथ देने से इनकार कर दिया। इसके बाद भी दलाल ने कहा कि आप बार्डर पार करा लीजिए, हम 13 सौ रुपए क्विंटल में धान दे देंगे। उसने कहा कि यूपी में तो कोई आंख तक नहीं दिखा पाएगा।

15 दिन पहले छत्तीसगढ़ में बहुत से लोगों को धान भेजा गया है
सवाल - धान मिल जाएगा भाई।
- मिल जाएगा, कहां से बोल रहे हैं।
सवाल - प्रतापपुर से बोल रहा हूं।
- कितना चाहिए आपको।
सवाल - दो हजार बोरी।
- दो हजार क्या 20 हजार बोरी दे देंगे। हमारे पास हमेशा 15 सौ, दो हजार का स्टॉक रहता है। आप पहले नहीं बताए। नहीं तो जितना कहते उतना पहुंचा देते। बहुत लोगों को दिए हैं।
सवाल - तो पहुंचा कर अब क्या रेट देंगे।
जवाब- 13 सौ में देंगे यहां से। बार्डर पार कराने के लिए आप अधिकारियों से बात कर लीजिए। दो हजार पांच हजार लेंगे। 15 दिन पहले नहीं बोले नहीं तो यहां से हजारों बोरी धान छत्तीसगढ़ गया है।
सवाल - आप ही बात कर दीजिए, अधिकारियों से।
- ठीक है तो, आपका ट्रक लेने आ जाएगा न, अगर अधिकारी अभी रात में ही बोलता है ले जाओ तो। मैं बात करता हूं। आपको बताता हूं।

गड़बड़ी के लिए बदनाम हैं कई केंद्र: यूपी और झारखंड बार्डर से लगे छत्तीसगढ़ के सूरजपुर, बलरामपुर जिले से लेकर सरगुजा के कई केंद्र गड़बड़ी के लिए बदनाम रहे हैं। प्रशासन की सख्ती के बाद भी यहां बड़े पैमाने पर पिछले सालों में धान खपाया जाता रहा है। इसे देखते हुए खरीदी शुरू होने से पहले सख्ती बढ़ा दी गई है।

रामेश्वर उर्फ बबलू से दूसरी बार की बातचीत
सवाल - बताइए।
-बात हुई, लेकिन नहीं जा पाएगा भैया। लेकिन एक उपाय है।
सवाल - बताइए, तो।
-एक काम हो सकता है, जब ट्रक खाली लौटता है उसमें 100-150 बोरी लोड करा देंगे। बाहर से नहीं दिखेगा। उसे कोई नहीं देखता है और दूसरा आलू लेकर छत्तीसगढ़ जाने वाले ट्रकों में भी भेज सकते हैं।
सवाल - आलू वाले ट्रक में कैसे, ले जाएंगे।
- भैया, अंदर तरफ धान रहेगा और बाहर के बोरो में आलू फिर परखी मारेगा तो जांच में तो पता नहीं चलेगा।
सवाल - लेकिन ऐसा तो कोई नहीं कर रहा, पकड़े गए तो।
-कर रहे हैं। अब कोई न कोई रास्ता तो बनाना पड़ता है। काम तो लोग करेंगे ही न। मैं तो पुलिस वाले से बात किया वो बोला साथ नहीं दे सकता, जांच में और भी अधिकारी बार्डर में रहते हैं। वो बोला नौकरी चली जाएगी।

भास्कर का धन्यवाद, जांच का दायरा बढ़ाएंगे: कलेक्टर श्याम धावड़े ने दैनिक भास्कर के स्टिंग ऑपरेशन पर कहा है कि अब वे दूसरे व आलू लोड वाहनों की भी सख्ती से जांच और धड़पकड़ कराएंगे। तस्करों और दलालों का धान किसी भी हाल में छत्तीसगढ़ नहीं पहुंच पाएगा। उन्होंने इस स्टिंग के लिए भास्कर को धन्यवाद दिया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का अधिकतर समय परिवार के साथ आराम तथा मनोरंजन में व्यतीत होगा और काफी समस्याएं हल होने से घर का माहौल पॉजिटिव रहेगा। व्यक्तिगत तथा व्यवसायिक संबंधी कुछ महत्वपूर्ण योजनाएं भी बनेगी। आर्थिक द...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser