पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

तीनों ग्रामीणों का निकाला गया शव:मंत्री से लोगों ने कहा- रोजगार सहायक की लापरवाही से गई तीनों ग्रामीणों की जान

अंबिकापुर19 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • धरसेड़ी में 24 घंटे बाद कुएं के भीतर मलबे में दबे तीनों ग्रामीणों का निकाला गया शव

सूरजपुर जिले के ब्लॉक ओडमी की ग्राम पंचायत धड़सेड़ी में शनिवार शाम को कुआं धंसकने से मलबे में दबे तीनों मजदूरों का शव 24 घंटे बाद निकाला जा सका। 30 फीट गहरा कुआं शनिवार को धंसक गया था। घटना को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है। रविवार को हेलीकाप्टर से हादसे का जायजा लेने पंचायत मंत्री टीएस सिंह देव पहुंचे।

ग्रामीणों ने रोजगार सहायक की शिकायत कर कहा कि उसी की लापरवाही से हादसा हुआ और तीन ग्रामीणों की जान गई है। मजदूरोंं के ऊपर करीब 15 फीट मलबा, मिट्टी और ईंट लद गई थी। इस दौरान तीनों की चीख तक नहीं निकली। मलबे के ढेर को हटाने 4 जेसीबी मशीन जुटी थी। रेस्क्यू के दौरान एसडीआरएफ अंबिकापुर की टीम पूरी रात लगी रही। रविवार सुबह 6 बजे एक मृतक का शव, जबकि दूसरे का दोपहर 3:30 बजे और तीसरे का शव शाम 5 बजे निकाला जा सका। रेस्क्यू में 4 जेसीबी मशीन सुबह तक कुएं से मिट्टी को नहीं निकाल सकी तो आनन-फानन में प्रशासन को पोकलेन मशीन को लगवानी पड़ी।

घटना स्थल पर पूरी रात डटी रही जिला प्रशासन की टीम
घटना स्थल पर कलेक्टर गौरव कुमार सिंह, पुलिस अधीक्षक राजेश कुकरेजा, जिला पंचायत सीईओ राहुल देव गुप्ता, अपर कलेक्टर एसएन मोटवानी पूरे अमले के साथ रातभर घटना स्थल पर रहकर रेस्क्यू कराया। वहीं रविवार दोपहर बाद आईजी आरपी साय ने भी घटना स्थल पहुंचकर जायजा लिया।

मेरा कोई सहारा नहीं साहब मुझे नौकरी दीजिए...
इस दौरान सिंह ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान घटना को दुखद बताया और मृतकों के बच्चों को पढ़ने-लिखने की पूरी सुविधा उपलब्ध कराने की बात कही है। मृतक डेगेंद्र की पत्नी ने कहा कि मेरा कोई सहारा नहीं है। मुझे कोई ऐसा कार्य दिलाएं कि अपना और बच्चों का भरण-पोषण कर सकूं। इस पर सिंहदेव ने वहां उपस्थित कलेक्टर को आश्रम में या स्कूल में महिला को नौकरी देने के निर्देश दिए।

देर रात पहुंचीं केंद्रीय राज्य मंत्री रेणुका, बांधा ढांढस
हादसे की सूचना पर शनिवार देर रात केंद्रीय राज्य मंत्री व सरगुजा सांसद रेणुका सिंह घटनास्थल पर पहुंची और उन्होंने मृतकों के परिजनों को ढांढस बंधाया। उन्होंने निर्माण कार्य में लापरवाही पर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की बात कही है। अजजा मोर्चा के प्रदेश भाजपा महामंत्री सत्यनारायण सिंह ने नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक को घटना की जानकारी दी। कौशिक ने मृतक के परिजनों के प्रति शोक प्रगट किया।

जनप्रतिनिधियों का गांव में लगा रहा तांता
जनप्रतिनिधियों ने घटना स्थल पहुंचकर मृतक के परिजनों से मिलकर उनका ढांढ़स बंधाया। पूर्व गृहमंत्री रामसेवक पैकरा, प्रदेश कांग्रेस सचिव अखिलेश प्रताप सिंह, जिला कांग्रेस अध्यक्ष भगवती राजवाड़े, ओड़गी भाजपा मंडल अध्यक्ष राजेश तिवारी, ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष गौतम कुशवाहा, शिव बालक यादव, नगर पंचायत अध्यक्ष सूरज गुप्ता, मुकेश अग्रवाल व प्रदीप राजवाड़े पहुंचे थे।

सवा 5 लाख की सहायता
सूचना मिलते ही प्रदेश के पंचायत व स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ग्राम धरसेड़ी में पहुंचे और रेस्क्यू का जायजा लेने के बाद मृतक के परिजन को ढांढस बंधाया। उन्होंने मृतकों के परिजनों को 5 लाख 25 हजार रुपए की सहायता राशि दी। साथ ही श्रम विभाग से एक-एक लाख का चेक दिया गया है।

खबरें और भी हैं...