भ्रष्टाचार / बालू लोड वाहन मालिकों से पुलिस कर रही वसूली

Police is recovering from sand load vehicle owners
X
Police is recovering from sand load vehicle owners

  • बलरामपुर की महान नदी और सूरजपुर की फुलझर नदी से अवैध खनन कर लाई जा रही रेत

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

अम्बिकापुर. सरगुजा के मुख्यालय अम्बिकापुर में लॉकडाउन में निर्माण कार्यों को छूट मिलने के कारण रोज करीब सौ ट्राॅली से अधिक रेत की डिमांड है। खास बात यह है कि लॉकडाउन में प्रति ट्रिप रेत का भाव 4 सौ रुपए बढ़ गया है। इस पर ट्रैक्टर चालकों का कहना है कि लॉकडाउन में जिले की सीमाओं पर जो पुलिस बल लगाया गया है। वह कल्याणपुर और सरगवां के पास उनसे प्रति ट्रिप 4 सौ रुपए ले रहा है। इसी तरह ईंट की ट्रांसपोर्टिंग में भी हो रहा है। दैनिक भास्कर को शहर के निर्माण कार्य कराने वालों ने जानकारी दी कि अचानक बालू का रेट बढ़ गया है। वे पैसा देने से इनकार करते हैं तो रोक दिया जाता है। 
अवैध रेत खदान के कारण देनी पड़ रही रिश्वत
रेत लेकर अम्बिकापुर आने वाले वाहन मालिकों के कहना है कि महान नदी और फुलझर नदी में रेत खदान स्वीकृत नहीं है। इसके कारण इसका पिट पास नहीं मिलता, रेत अवैध होती है। इसकी वजह से वे भी इसका विरोध नहीं कर पा रहे हैं। जबकि छोटे रेत खदान को ठेका में न देकर सरकार उन्हें ग्राम पंचायतों को दे सकती है।
दूसरे पुलिसकर्मी तैनात करेंगे:एसपी
सरगुजा एसपी आशुतोष सिंह ने कहा है कि मामला गंभीर है। वे तत्काल जिला की सीमाओं में तैनात पुलिस कर्मियों को हटाएंगे और हिदायत के साथ दूसरे कर्मियों को तैनात किया जाएगा ताकि लॉकडाउन का पूरी तरह पालन हो।
खनिज विभाग का बैरियर नहीं है
शहर में प्रवेश करने वाले प्रतापपुर मुख्यमार्ग में खनिज विभाग का बैरियर नहीं है। रामानुजगंज मुख्य मार्ग में शंकरघाट पर बैरियर है। जहां से भी बलरामपुर जिले के बघिमा इलाके के क्रेशरों से गिट्टी लोड ट्रक शहर पहुंच रहे हैं। इस पर भी रोक नहीं लगाई जा रही है और न ही पिट पास की जांच हो रही है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना