पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

एसडीएम ने अवैध प्लाटिंग रोकने दिए निर्देश:34 भू-स्वामियों की जमीन की खरीदी-बिक्री पर लगाई रोक

अंबिकापुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नगर निगम और उसके आस-पास के क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर अवैध प्लाटिंग की आशंका को देखते हुए एसडीएम अंबिकापुर ने तहसीलदार के प्रतिवेदन के पर 34 भू स्वामियों की जमीन का डायवर्सन, क्रय-विक्रय, अंतरण, नामांतरण तथा किसी प्रकार के निर्माण कार्य करने पर जांच कार्यवाही पूर्ण होने तक रोक लगा दी है।

आदेश में कहा कि निजी भूमि स्वामियों द्वारा कृषि से दूसरे उपयोग के लिए भूमि का समतलीकरण करते हुए ईंट, चूने व सीमेंट पोल से टुकड़ों में भूमि चिन्हांकित की जा रही है। इन टुकड़ों की भूमि का स्वरूप परिवर्तित कर काॅलोनियों के निर्माण व विक्रय के लिए अवैध प्लाटिंग संभावित है। इसलिए जांच पूर्ण होने तक क्रय-विक्रय, डायवर्सन आदि पर रोक रहेगी। बता दें कि जिन पर रोक लगाई गई है, उन भूमि स्वामियों में भगवानपुर कला के सुरेश गुप्ता, अंबिकापुर की जूही मेहता, सुभाष नगर के दिलीप धर, अमन राय, राधेकृष्ण गोयल, शैलेंद्र राय, अनिल कुमार ताम्रकार, अनिल सिंह, चठीरमा के आयुष गोयल, नेहरूनगर के सुमंत सिकदर, दीपक गोस्वामी, सरगवां के राधेश्याम अग्रवाल, बिजेंद्र सिंह, मायापुर के प्रियवर संतोष, देवी राम, भिट्ठीकला के दीपक रूप चंदानी, संजय गुप्ता, क्रान्तिप्रकाशपुर के सूरजमनिया, मोहम्मद इरशाद अंसारी, भरत, संतोष अग्रवाल, फुन्दूरडिहारी के रामकृष्ण गोयल, सुभाष राय, रीता गोयल, अंजना, केशवपुर के भीमसेन, रेनु सिंह, अशोक सिंह, हर्राटिकरा के बारातू, सोनपुरकला के प्रमोद कुमार भगत, कपिल देव, ब्रह्मानंद रेलवानी, असोला के श्रीनाथ व रंजना पाठक शामिल हैं। एसडीएम ने कहा कि जांच पूरी होने तक इनमें से किसी ने आदेश का उल्लंघन किया तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कहा कि जांच पूरी होने के बाद आगे निर्देश दिया जाएगा।

खबरें और भी हैं...