पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फैसला:अवैध हथियार रखने पर तीन साल की सजा, जुर्माना भी किया

अंबिकापुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

शहर के दर्रीपारा स्थित दिक्षा हिल्स होटल के कर्मचारी को गोली मारने और जान से मारने की धमकी देने के मामले में कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया है। जबकि होटल के तत्कालीन संचालक मुकेश गोस्वामी पुत्र मारकंडेय कुमार गोस्वामी को अवैध हथियार रखने के आरोप में तीन साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई है। प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश जयदीप गर्ग की अदालत ने दस हजार रुपए का जुर्माना भी लगाया है। जुर्माना नहीं देने पर तीन महीने का अतिरिक्त कारावास भुगतना होगा। अतिरिक्त लोक अभियोजक हेमंत तिवारी ने बताया कि पीड़ित किशोर साहू ने पुलिस को बताया कि सितंबर महीने तक वह होटल दिक्षा हिल्स में कैप्टन पोस्ट पर काम करता था। इसके बाद वेतन नहीं मिलने पर वह दूसरे होटल में काम करने लगा। इसी दौरान 14 फरवरी 2014 को वह अपना तीन महीने का बकाया वेतन लेने होटल पहुंचा। वहां होटल मालिक मुकेश गोस्वामी अपने साथ चार-पांच अन्य लोगों को लेकर आए और उसके बाएं पैर में दो गोली मार दी। इसके साथ ही जान से मारने की धमकी भी दी। इसके बाद वह बेहोश हो गया, जब उसकी आंख खुली तो वह एक अंधेरे कमरे में बंद था। इसके बाद लगातार 14 दिनों तक आरोपी उसके साथ मारपीट करते रहे। 27 फरवरी को उसने कमरे से भागकर अपनी जान बचाई और पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने जानलेवा हमला सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कर आरोपपत्र न्यायालय में दाखिल किया। इस दौरान होटल से पुलिस को अवैध देशी तमंचा भी बरामद हुआ। प्रथम अपर सत्र न्यायाधीश जयदीप गर्ग की अदालत में सभी गवाहों व साक्ष्यों को देखा और सुना गया। इस दौरान पीड़ित किशोर साहू कई नोटिस के बाद भी बयान देने कोर्ट नहीं पहुंचा। इस आधार पर न्यायालय ने आरोपी मुकेश गोस्वामी को अवैध हथियार रखने का दोषी मानते हुए तीन साल के सश्रम कारावास की सजा सुनाई।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आपकी प्रतिभा और व्यक्तित्व खुलकर लोगों के सामने आएंगे और आप अपने कार्यों को बेहतरीन तरीके से संपन्न करेंगे। आपके विरोधी आपके समक्ष टिक नहीं पाएंगे। समाज में भी मान-सम्मान बना रहेगा। नेग...

    और पढ़ें