पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोनाकाल:20 दिन से पूरा सरगुजा लॉक फिर भी शहर से अंचल तक बढ़े मरीज, कोरोना से 63 की मौत और 9912 लोग हुए संक्रमित

अंबिकापुर13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ऐसे जानिए... नवबांन्ध में 167 की जांच में 57 और लब्जी में 40 व सोहाग गांव में 40 केस मिले
  • सरगुजा में तमाम कोशिशों के बाद भी संक्रमण की रफ्तार बढ़ रही, अब हर व्यक्ति को कोरोना की गाइड लाइन का पालन करना जरूरी

सरगुजा जिले में तमाम कोशिशों के बाद भी कोरोना की रफ्तार कम नहीं हो रही है। लॉकडाउन के बाद भी पिछले 20 दिन में जिले में कोरोना से 63 लोगों की जान चली गई। वहीं 9912 केस मिले हैं। हर दिन 5 सौ से 6 सौ केस मिल रहे हैं और राेज मौत हो रही है। शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्र में भी संक्रमण बढ़ रहा है। शहर से लगे आसपास के गांव में कराई गई जांच में चिंताजनक स्थिति सामने आई है।

नवबान्ध में 167 लोगों की जांच में 57 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। वहीं लब्जी में 45 सोहाग में 40 केस मिले हैं। पहली लहर में इन गांव में कोरोना नहीं पहुंचा था। शहरी क्षेत्रों के बाद ग्रामीण इलाकों में भी कोरोना के बढ़ रहे केस चिंताजनक है। अब तक भीड़ वाले शहरी इलाकों से केस बढ़ रहे थे। वहीं अब ग्रामीण इलाकों में केस बढ़ने से दबाव बढ़ेगा। लॉकडाउन से पहले बाजार में जिस तरह से भिड़ जुटी थी संक्रमण फैल चुका था। अंचल में अभी भी लोग लापरवाही बरत रहे हैं। सरगुजा में कोरोना संक्रमण का कम होता नजर नहीं आ रहा है। संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। अप्रैल की शुरुआत में कोरोना मरीजों के बढ़ने का जो सिलसिला शुरू हुआ है, कम होने का नाम नहीं ले रहा है। यह स्थिति तब है जब 20 दिन से जिले में पूरी तरह से लॉकडाउन है। सड़कों पर घूमने फिरने वाले पर जुर्माना लगाया जा रहा है। अगर कोरोना संक्रमण का हाल देखें तो 1 मई को जिले में जहां 621 केस मिले थे। वहीं 3 मई को 617 केस मिले।

पीपीटी किट पहन ग्रामीणों ने अर्थी को कंधा दे किया अंतिम संस्कार
स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव की पहल पर कोरोना से मृत्यु के पश्चात हरभजन का ससम्मान अंतिम संस्कार कराया गया। मेंड़राकला निवासी हरभजन की मंगलवार को कोरोना से मौत हो गई। मृत्यु के पश्चात परिवार में अन्य कोई सदस्य नहीं होने पर इसकी सूचना स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव को मिली। उन्होंने तुरंत जिला कांग्रेस कमेटी के महामंत्री और पूर्व जिला पंचायत सदस्य मुनेश्वर राजवाड़े से बात कर उनका अंतिम संस्कार सम्मान के साथ करने को कहा। जिला प्रशासन से सहयोग लेकर गांव के मुकेश, रामेश्वर, शीनू राजवाड़े और हंस राजवाड़े ने पीपीटी किट पहनकर अर्थी को कंधा देकर रजवार समाज की रीति के अनुसार अंतिम संस्कार किया गया।

जिस दिन ज्यादा जांच उस दिन केस भी ज्यादा निकल रहे

सरगुजा में 20 दिन में तीन बार बढ़ाया गया लॉकडाउन
कोरोना का केस बढ़ने लगे तो 13 अप्रैल को 10 दिन के लिए 23 अप्रैल तक लॉकडाउन लगाया गया। इसके बाद भी कोरोना संक्रमण कम नहीं हुआ तो बढ़ाकर 26 अप्रैल तक फिर 5 मई तक कर दिया गया, लेकिन स्थिति जस की तस है। कोरोना से न मौतें रुक रही हैं न ही केस कम हो रहे हैं।

राहत की बात ये कि जिले में 6 हजार मरीज ठीक हुए
कोरोना से एक तरफ मौतें हुई हैं। वहीं दूसरी ओर राहत की बात ये है कि मरीज ठीक भी हो रहे हैं। हर दिन 2 से तीन सौ लोग ठीक हो रहे हैं। 13 अप्रैल से अब तक 6 हजार से अधिक लोग कोरोना से जंग जीत चुके हैं। घरों में रहकर ही कोरोना को हराया जा सकता है।.

सरगुजा जिले में 2 से 3 हजार लोगों की रोज जांच
सरगुजा जिले में कोरोना संक्रमण का पता लगाने के लिए हर दिन 2 से 3 हजार लोगों की जांच हो रही है। जिस दिन जांच अधिक हो रही है उस दिन केस भी अधिक निकल रहे हैं। कोरोना के बढ़ते केस को देखते हुए जांच बढ़ाने को कहा गया है।

ये भी जानिए
जिले में 45 साल से ऊपर के 2 लाख 31 हजार लोगों में 2 लाख 16 हजार लोगों को लगना है टीका। इनमें से 31 हजार लोगों को को ही लग पाई हैं दोनों डोज {18 साल से ऊपर के अंत्योदय परिवारों का टीकाकरण शुरू {इस वर्ग के है 63 हजार परिवार जिले में हैं। {कोरोना मरीजों के लिए सेंटर में 706 बेड खाली

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- व्यक्तिगत तथा व्यवहारिक गतिविधियों में बेहतरीन व्यवस्था बनी रहेगी। नई-नई जानकारियां हासिल करने में भी उचित समय व्यतीत होगा। अपने मनपसंद कार्यों में कुछ समय व्यतीत करने से मन प्रफुल्लित रहेगा ...

    और पढ़ें