पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

विश्व संगीत दिवस पर विशेष:तबला वादक प्रदीप्तो बोले- संगीत और स्पोर्ट्स दो ऐसी विधाएं हैं, जो बच्चों को गलत रास्ते पर जाने ही नहीं देती

बैकुंठपुर/चिरमिरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 20 देशों के नामी कलाकारों के साथ म्यूजिक कंसर्ट में शामिल हो चुके चिरमिरी के प्रदीप्तो से चर्चा
Advertisement
Advertisement

अमेरिका समेत 20 से अधिक देश में नामी कलाकारों के साथ प्रस्तुति दे चुके चिरमिरी के तबला-वादक प्रदीप्तो ने जिले, प्रदेश व देश का नाम रोशन किया है। संगीत के क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बना चुके प्रदीप्तो अब ऑनलाइन तबला वादन का प्रशिक्षण दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि भारतीय परंपरा में संगीत को ऊंचा स्थान दिया गया है, लेकिन वर्तमान समय में संगीत का स्वरूप बदल रहा है, लेकिन हमारी परंपरा आज भी और कल भी उच्च कोटि की ही रहेगी, क्योंकि मेरी तरह हजारों लाखों युवा इसकी साधना में लगे हुए हैं। लाहिड़ी ने कहा कि संगीत में भी भविष्य निर्माण की बहुत संभावनाएं हैं। एमबीए करने के बाद भी नौकरी के लिए ऑफर मिला, लेकिन संगीत को ही अपने जीवन का सहारा बनाया। उन्होंने कहा कि सही मायनों में सफलता की इबारत आपकी उम्र से नहीं बल्कि आपके दृढ़ निश्चय और मजबूत इरादों से लिखी जाती है। दरअसल प्रोफेसर रही मां सपना लाहिड़ी से यह सबक मिला था और पिता एके लाहिड़ी ने बेटे को आगे बढ़ा दिया।

संगीत व स्पोर्टस में अनुशासन
लॉकडाउन शुरू हुआ, तो अपने क्षेत्र के और अन्य शहरों के युवाओं को ऑनलाइन संगीत की शिक्षा देना शुरू कर दिया, जो आज भी जारी है। 40 साल के प्रदीप्तो बताते है कि संगीत और स्पोर्टस दो एैसी विधाएं हैं, जो बच्चों को गलत रास्ते पर जाने ही नहीं देते है।

सफलता: एक सीढ़ी चढ़ने के बाद मिलते गया रास्ता
संगीत की शिक्षा पं. श्याम बिहारी तिवारी से 7 साल की उम्र में लेने के बाद पं. विनोद पाठक से तबले की शिक्षा ली। प्रदीप्तो ने बताया कि एक सीढ़ी चढ़ने के बाद अपने आप ही आगे का रास्ता बनता गया है। केंद्र सरकार की ओर से राष्ट्रीय स्कॉलरशिप रेडियो व दूरदर्शन से ग्रेडेशन भी प्राप्त हुआ। प्रयाग संगीत समिति इलाहाबाद, गंधर्व महाविद्यालय मुंबई, चक्रधर महोत्सव रायगढ़, तानसेन महोत्सव ग्वालियर, भारत भवन भोपाल, हैबिटेट सेंटर दिल्ली में शामिल हो कला प्रदर्शन करने का अवसर मिला।
अनुभव: भारतीय और विदेशी संगीत के प्यूजन में भी सहयोग
प्रदीप्तो अमेरिका, कनाडा, जॉर्डन, लेबनान, दुबई, स्विजरलैंड, कतर, यूरोप समेत 20 से अधिक कार्यक्रम में न सिर्फ अपनी कला का प्रदर्शन किया, बल्कि विदेशी कलाकारों के साथ भारतीय और विदेशी संगीत के प्यूजन करने में सहयोग भी किया। फ्यूजन म्यूजिक में भी कई विदेशी कलाकारों के साथ उनके एल्बम्स में काम करने का मौका मिला। जॉर्डन में आयोजित म्यूजिक कंसर्ट में 19 देश के श्रेष्ठ कलाकारों के साथ भारतीय संगीत कला का प्रदर्शन करना सबसे सुखद अनुभव रहा है।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप अपनी रोजमर्रा की व्यस्त दिनचर्या में से कुछ समय सुकून और मौजमस्ती के लिए भी निकालेंगे। मित्रों व रिश्तेदारों के साथ समय व्यतीत होगा। घर की साज-सज्जा संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत हो...

और पढ़ें

Advertisement