38 हजार बोरा संग्रहण का लक्ष्य:मई के दूसरे सप्ताह से शुरू होगी तेंदूपत्ता की तोड़ाई

अंबिकापुर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • जिले के 47 हजार परिवारों की अतिरिक्त आय का है जरिया

वन विभाग ने जिले में तेंदूपत्ता संग्रहण व खरीदी के लिए तैयारी पूरी कर ली है। तेंदूपत्ता तोड़ाई का कार्य मई के दूसरे सप्ताह से होने की संभावना है। इस वर्ष जिले को 38 हजार मानक बोरा तेंदूपत्ता संग्रहण का लक्ष्य मिला है। जिले के 47 हजार 870 वनवासी परिवार तेंदूपत्ता तोड़ाई में शामिल होंगे। इससे उन्हें प्रत्यक्ष रूप से एक से डेढ़ माह रोजगार और अतिरिक्त आय मिलेगी।

वर्तमान में तेन्दूपत्ता संग्रहण दर 400 रुपए प्रति सैकड़ा और 4 हजार रुपए प्रति बोरा है। निर्धारित लक्ष्य के अनुसार तेंदूपत्ता संग्राहक परिवारों को करीब 15 करोड़ 20 लाख का भुगतान किया जाएगा। जिले में तेंदूपत्ता संग्रहण का कार्य 14 समितियों के माध्यम से 15 लॉट में निर्धारित लक्ष्य 38 हजार मानक बोरा तक किया जाएगा। तेन्दूपत्ता संग्रहण के लिए फड़ तैयार कर दिया गया है। रंग, बोरा, सुतली, सूजा व तारपोलिन की व्यवस्था भी कर दी गई है। अफसरों की भी नियुक्ति कर दी गई है।

इसमें 250 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जाएगी। अधिकारियों ने बताया कि तेन्दूपत्ता तोड़ाई के दौरान संग्राहकों को कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए मास्क और सैनिटाइजर का उपयोग व फिजिकल डिस्टेंस का पालन करना होगा।

खबरें और भी हैं...