पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

लापरवाही:मजदूरों को नहीं मिली डबरी बनाने की मजदूरी

अंबिकापुर10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • ग्रामीणों ने की रोजगार सहायक को हटाने की मांग

अंबिकापुर जनपद पंचायत के ससकालो ग्राम पंचायत में मनरेगा के तहत डबरी निर्माण के मजदूरों को रोजगार सहायक की लापरवाही की वजह से अब तक भुगतान नहीं हो सका है। वहीं 12 ऐसे हितग्राही हैं जिन्होंने अपने पैसे से शौचालय निर्माण का काम कराया, लेकिन उन्हें भुगतान नहीं किया गया है। इसकी शिकायत ग्राम के उप सरपंच ने अधिकारियों से की है और ग्रामीण रोजगार सहायक की लापरवाह कार्यशैली की वजह से हटाने की मांग कर रहे हैं, लेकिन जांच के नाम पर खानापूर्ति कर रहे हैं। इससे ग्रामीणों में नाराजगी है। ससकालो पंचायत के ग्रामीणों ने मनरेगा के अधिकारियों से एक साल पहले भी मजदूरी के बाद भी भुगतान नहीं मिलने की शिकायत मजदूरों ने की थी लेकिन हद तो यह है कि इन मजदूरों को अब तक मजदूरी नहीं दिलाई गई। मजदूरों का आरोप है कि उन्होंने काम किया, लेकिन मस्टर रोल में फर्जी मजदूरों का हाजिरी भरकर उनके खाते में पैसा भेजकर गड़बड़ी की गई है। मजदूरों का कहना है कि जब वे रोजगार सहायक से इस पर बात करते हैं तो वह उन्हें ठोस जवाब नहीं देता है। इसी तरह पंचायत में 400 सौ से अधिक शौचालय का निर्माण किया गया है, लेकिन 12 हितग्राहियों को उसका पैसा नहीं दिया गया है। वहीं वर्तमान पंचायत सचिव का कहना है कि जब शौचालय निर्माण हुआ तब वे पंचायत में पोस्टेड नहीं थे। इसकी शिकायत पर जांच टीम गांव में गई थी, गड़बड़ी मिली लेकिन उस पर कोई कार्यवाही नहीं होने से अब अधिकारियों की भूमिका पर सवाल उठ रहे हैं। उप सरपंच राजकुमारी ने जनपद सीईओ को लिखे आवेदन में बताया है कि पंचायत चुनाव के बाद टेबल कुर्सी खरीदी के लिए बताया गया था कि 30 हजार रुपए आहरित किया जा रहा है लेकिन बाद में 63 हजार आहरित किया गया है। जब पंचायत में इसका खुलासा हुआ तो सचिव व सरपंच ने पंचों को हजार हजार रुपए देने का लालच दिया लेकिन उन्होंने लेने से इंकार कर दिया। इसकी भी जांच की मांग की गई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें