शहर का न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री पर पहुंचा:बादल छंटते ही लुढ़का पारा, उत्तर-पश्चिमी से आ रही शुष्क हवा से बढ़ने लगी ठंड

अंबिकापुर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

चक्रवात का असर कम होने के साथ बादल छंटे तो ठंड भी अब अपना असर दिखाने लगी है। इससे रात का तापमान रोजाना नीचे लुढ़क रहा है और ठिठुरन बढ़ने लगी है। तीन दिन में रात के तापमान में करीब तीन डिग्री की गिरावट दर्ज की गई और शनिवार को शहर का न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री पर पहुंच गया, जो सामान्य से 2 डिग्री नीचे हैं। मौसम विभाग के अनुसार प्रदेश में अंबिकापुर का न्यूनतम तापमान सबसे कम है। इसका असर भी दिख रहा है। दिन में धूप के बाद तपिश कम महसूस हो रही है और शाम होने के बाद घर से बाहर निकलने गर्म कपड़े की जरूरत पड़ने लगी है। आसमान साफ रहने से रात में कोहने का असर देखा जा रहा है। लाइट के बीच कोहरे धुंध नजर आ रही है।

पहाड़ी और मैदानी इलाके में और ज्यादा ठिठुरन
जिले के पहाड़ी और मैदानी इलाकों में तो और ज्यादा ठंड पड़ रही है। यहां शहरी इलाके से दो डिग्री कम तापमान रह रहता है। मैनपाट में रात का न्यूनतम तापमान 10 डिग्री के आसपास पहुंचने लगा है। इससे यहां ज्यादा ठंड महसूस हो रही है। यहां हवा की रफ्तार ज्यादा होने से दिन में ठंड का असर रह रहा है।

खबरें और भी हैं...