पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हादसा:भकुरा के पास ट्रेलर ने स्काॅर्पियो को मारी टक्कर, दो युवकों की माैत, 4 घायल

अंबिकापुर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • हादसा}शहर से लगे रामानुजगंज हाइवे पर भकुरा व भफौली के पास शनिवार रात हुई भिड़ंत

शहर से लगे रामानुजगंज एनएच में शनिवार की रात भकुरा व भफौली के बीच तेज रफ्तार ट्रेलर ने स्काॅर्पियो को चपेट में ले लिया। टक्कर इतनी जबरदस्त हुई कि स्काॅर्पियो के सामने का हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया और उसमें सवार ड्राइवर सहित छह लोग घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि आस-पास के लोगों ने एंबुलेंस से घायलों को मेडिकल काॅलेज अस्पताल भिजवाया, लेकिन इससे पहले बतौली थाना अंतर्गत ग्राम सरमना निवासी आकाश सिंह 20 वर्ष व ड्राइवर सेतराम पैकरा 25 वर्ष की मौत हो गई थी। स्कार्पियों में सवार अन्य चार युवकों को मामूली चोट आई थी। इन्होंने ही फोन कर परिजनों को बताया तो वे अस्पताल पहुंचे। इधर हाइवा को छोड़कर चालक फरार हो गया था। पुलिस हाइवा व स्काॅर्पियो को जब्त कर थाने ले आई। पुलिस ने मामले में अपराध दर्ज कर लिया है। जहां हादसा हुआ है वह ब्लैक स्पाट है और यहां हर साल सड़क हादसे में कई जानें जाती हैं।

स्पीड ब्रेकर बनाते तो नहीं होता इतना बड़ा हादसा
सड़क सुरक्षा समिति ने यहां स्पीड ब्रेकर बनाने सुझाव दिए थे, लेकिन वह बना नहीं है। ऐसे ही जिले में कई ब्लैक स्पाट हैं, जहां हर साल हादसे में कई जानें जाती हैं। वर्ष 2019 में ऐसी जगहों पर हुए हादसे में 51 लोगों की जान चली गई थी। कोरोना के कारण लॉकडाउन से 2020 में सड़क हादसे कम हुए, लेकिन अब ये फिर बढ़ने लगे हैं।

किराए की स्काॅर्पियो लेकर अंबिकापुर आए थे सभी
पुलिस ने बताया कि सरमना निवासी आकाश सिंह व उसके चार अन्य साथी किराए में स्काॅर्पियो लेकर शनिवार को अंबिकापुर घूमने आए थे। आकाश काॅलेज में पढ़ता है। अंबिकापुर में अपना काम निपटाने के बाद सभी रात में वे वापस घर जाने निकले। स्काॅर्पियो को ड्राइवर सेतराम पैकरा चला रहा था। इसी बीच यह हादसा हो गया।

बतौली के बजाय बरियो के रास्ते लौट रहे थे युवक
स्काॅर्पियों में सभी युवक बतौली होते हुए अंबिकापुर आए थे, लेकिन लौटते समय वे बरियो के रास्ते जाने के लिए निकले। उन्होंने ऐसा क्यों किया अभी यह स्पष्ट नहीं है। बताया गया है कि ड्राइवर चेतराम को बरियों में अपने परिचित से कुछ काम था। इसलिए वह बतौली के बजाय बारियो होते हुए वापस में जाने के लिए निकला था।

हेलमेट नहीं पहनने से सबसे ज्यादा बाइक सवारों की मौत
कोरोना के कारण लॉकडाउन के कारण पिछले साल मार्च के बाद आवागमन कम होने से सड़क हादसे भी कम हुए हैं, लेकिन इससे पिछले सालों का आंकड़े देखे तो सड़क हादसे में ज्यादातर मौतें बाइक सवार की होती है। इनमें अधिकांश बाइक सवार हेलमेट नहीं पहने रहते हैं। वर्ष 2019 में 379 सड़क हादसे में 177 लोगों की मौत हुई थी जिसमें 128 बाइक सवार शामिल थे हो हेलमेट नहीं पहने थे।

जिले में ब्लैक स्पाट, जहां हर साल होती हैं कई मौतें
जिले से गुजरे एनएच व स्टेट हाइवे में सड़क सुरक्षा समिति द्वारा हादसों के आधार पर ब्लैक स्पाट चिन्हांकित किए हैं। इनमें रायगढ़ एनएच में दरिमा मोड़, लुचकी घाट, बिलासपुर रोड में सांड़बार, मेंड्राकला, जजगा लखनपुर, खरखरी नाला उदयपुर, डांड़गांव, रामानुजगंज रोड में भकुरा, असोला व भफौली शामिल हैं। इनमें से ज्यादातर जगहों पर एनएच ने समिति के सुझाव पर काम नहीं किया है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

    और पढ़ें