पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सिस्टम ही कमजाेर:वायरोलॉजी लैब नहीं हुआ शुरू आरटीपीसीआर की 2 हजार जांच रिपोर्ट नहीं मिली

बैकुंठपुर8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • लापरवाही; जिले में 10 दिन बाद भी लोगों को नहीं मिल रही है आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट

जिले में आरटीपीसीआर से कोरोना जांच एक तरह से मजाक बनकर रह गया है। दरअसल यहां जांच के 10 दिन बाद भी संबंधित लोगों की जांच रिपोर्ट उपलब्ध नहीं कराई जा रही है, जबकि 72 घंटे के भीतर रिपोर्ट मिल जानी चाहिए। स्थानीय अधिकारी मामले में अपने को लाचार बताकर सारा दोष अंबिकापुर के जांच सेंटर पर थोप रहे हैं। पिछले कई दिनों से ऐसी स्थिति बनी हुई है कि रिपोर्ट देर से मिलने से लोग परेशान हैं।

जिले में हालात यह हैं कि एक तो हर किसी का आसानी से आरटीपीसीआर से जांच भी नहीं हो रहा। जिनका हो रहा है, उन्हें रिपोर्ट के लिए लंबा इंतजार करना पड़ रहा है। कई लोगों को तो जांच के इंतजार में अपनी जान तक गवानी पड़ी है लेकिन रिपोर्ट फिर भी नहीं मिल रही है। एंटीजन टेस्ट पर डॉक्टर व अफसरों को उस तरह से भरोसा नहीं है, जिससे वे पूरी तरह संतुष्ट हो सकें। कहीं जरूरी यात्रा भी करना हो तो आरटीपीसीआर जांच जरूरी है, लेकिन व्यवस्था के नाम पर कुछ भी नहीं दिख रहा।

बता दें कि जिले में आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट में सुविधा उपलब्ध कराने के लिए जिला मुख्यालय में वायरोलॉजी लैब की स्थापना की गई है, लेकिन तकनीकि कमियों के कारण लैब अब तक शुरू नहीं हो सका है। कोरोना जांच रिपोर्ट के लिए कोरिया अब भी दूसरे जिलों पर निर्भर बना हुआ है। ऐसे में कई संदिग्ध लक्षण वाले लोगों को एक सप्ताह तक अपने घरों में क्वारंटाइन रहने के बाद भी उन्हें समय से जांच रिपोर्ट नहीं मिल रहा है। कई लोग तो ऐसे भी हैं जो जांच रिपोर्ट आने के इंतजार में सामान्य जिंदगी जी रहे हैं और अपने परिवार व समाज के लोगों को अनजाने में संक्रमित कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को लेकर आरटीपीसीआर जांच की रिपोर्ट ससमय उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए हैं। लेकिन हालात यह है कि 10 दिन बीतने के बाद भी रिपोर्ट नहीं मिल रही है। कोरिया जिले में दो हजार से अधिक सैंपल की रिपोर्ट आना अभी शेष है। ऐसे में सिस्टम की कमजोरी से कैसे कोरोना को हराना संभव होगा।

550 संक्रमित मिले, 4,387 एक्टिव केस
जिले में मंगलवार को 1580 सैंपल की जांच में 550 संक्रमितों की पहचान हुई है। वहीं कोविड पॉजिटिव चार मरीजों की मौत हुई है। इसमें नगरीय क्षेत्र बैकुंठपुर से 38, चरचा से 21, चिरमिरी से 105, मनेंद्रगढ़ से 62, लेदरी से 2, झगराखाण्ड से 5 व खोंगापानी से 15 कोरोना संक्रमित मिले हैं। वहीं ग्रामीण क्षेत्र बैकुंठपुर से 125, खड़गवां से 106, मनेंद्रगढ़ से 20, सोनहत से 36 व जनकपुर से 15 मरीज कोविड पॉजिटिव हैं।

48 घंटे में रिपोर्ट देने का कर रहे हैं प्रयास
सीएमएचओ डॉ रामेश्वर शर्मा ने बताया कि आरटीपीसीआर के सैंपल ज्यादा आ रहे हैं। इससे रिपोर्ट में देरी हो रही है। वायरोलॉजी लैब में कुछ कमियों के कारण यह शुरू नहीं हो सका है। जल्द ही इसे शुरू किया जाएगा। प्रयास कर रहे हैं कि आरटीपीसीआर जांच रिपोर्ट 48 घंटे के भीतर में मिल जाए। ट्रू-नॉट टेस्ट की सुविधा जिले में उपलब्ध है।

अब तक डेढ़ लाख की जांच हो चुकी है
जिले में रैपिट एंटीजन टेस्ट से अब तक 1,51,328, ट्रूनॉट से 28,398 व आरटीपीसीआर से 28,907 सैंपल की जांच हो चुकी है। इसमें आरटीपीसीआर से 1732, ट्रूनॉट से 3106 व एंटीजन जांच में 10,517 संक्रमित मिले हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव - आज की स्थिति कुछ अनुकूल रहेगी। संतान से संबंधित कोई शुभ सूचना मिलने से मन प्रसन्न रहेगा। धार्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत करने से मानसिक शांति भी बनी रहेगी। नेगेटिव- धन संबंधी किसी भी प्रक...

    और पढ़ें