पत्नी ने उकसाया, तो भाई को मार डाला:पति से कहा- तेरा भाई गाली देता है, तुम कुछ नहीं कहते, यह सुन कुल्हाड़ी से किया वार

​​​​​​​गौरेला6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हत्या की जानकारी मिलने पर घर के बाहर एकत्र हुए ग्रामीण और आसपास के लोग। - Dainik Bhaskar
हत्या की जानकारी मिलने पर घर के बाहर एकत्र हुए ग्रामीण और आसपास के लोग।
  • पिता की हत्या के बाद दो मासूम अनाथ, मां की एक साल पहले हो चुकी मौत

छत्तीसगढ़ के गौरेला-पेंड्रा-मरवाही (GPM) जिले में एक युवक ने पत्नी के उकसाने पर अपने ही बड़े भाई को कुल्हाड़ी से वार कर मार डाला। इसके बाद उसके शव को कमरे में लिटा कर कंबल से ढंक दिया। हत्या के दौरान आसपास गिरे खून को साफ कर उसकी गोबर से लिपाई कर दी। हत्या का पता दो दिन बाद गुरुवार सुबह चला जब बच्चों ने पड़ोसी को बताया। पुलिस पहुंचती इससे पहले आरोपी भाग निकला। मामला गौरेला थाना क्षेत्र का है।

जानकारी के मुताबिक, ग्राम पंचायत पिपरखुटि निवासी आनंद श्याम (35) 12 अक्टूबर की रात शराब के नशे में घर पहुंचा था। तभी छोटा भाई पवन भी शराब पीकर पहुंच गया। दोनों के बीच पारिवारिक विवाद चलता था। रात में भी किसी बात को लेकर झगड़ पड़े। हाथापाई होती देख पवन की पत्नी ने उससे कहा कि तुम्हारा भाई हमेशा मुझे गाली देता है, लेकिन तुम कुछ नहीं करते। इतना सुनते ही पवन ने कुल्हाड़ी से आनंद के सिर पर वार कर दिया।

10 साल की बेटी पूजा ने बताया कि पापा आवाज देने पर नहीं उठे तो पड़ोस में रहने वाली बड़ी मां को बताया। उन्होंने देखा तो पूरा तकिया खून से सना था और पापा कुछ नहीं बोल रहे थे।
10 साल की बेटी पूजा ने बताया कि पापा आवाज देने पर नहीं उठे तो पड़ोस में रहने वाली बड़ी मां को बताया। उन्होंने देखा तो पूरा तकिया खून से सना था और पापा कुछ नहीं बोल रहे थे।

दो दिन बाद पड़ोसियों ने दी पुलिस को सूचना, आरोपी भागा
सिर पर कुल्हाड़ी से वार करते ही आनंद जमीन पर गिरा और उसकी मौत हो गई। इसके बाद पवन व उसकी पत्नी ने शव को उठा कर बिस्तर पर लिटा दिया और कंबल से ढंक दिया। हत्या के बाद वहां गिरे खून को साफ कर गोबर की लिपाई कर दी। वारदात देर रात करीब 12 बजे की बताई जा रही है। दो दिन बाद जब पड़ोसियों को पता चला तो पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। उसने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं आरोपी पवन भाग निकला है।

बच्चे बोले- लगा कि पापा सो रहे होंगे, जब नहीं बोले तो बड़ी मां को बताया
10 साल की बेटी पूजा ने बताया कि वह और उसका 7 साल का भाई योगेश दोनों दूसरे कमरे में सो रहे थे। पापा और चाचा के बीच अक्सर ही हाथापाई होती थी। पहले भी जब झगड़े हुए तो खून निकला, लेकिन सुबह पापा ठीक हो जाते थे। 10 साल की बेटी पूजा ने बताया कि जब खाना खिलाने के लिए बुधवार दोपहर 3 बजे तक भी पापा आवाज देने पर नहीं उठे तो पड़ोस में रहने वाली बड़ी मां को बताया। उन्होंने आकर देखा तो पूरा तकिया खून से सना था और पापा कुछ नहीं बोल रहे थे।

सिर पर कुल्हाड़ी से वार करते ही आनंद जमीन पर गिरा और उसकी मौत हो गई। इसके बाद पवन व उसकी पत्नी ने शव को उठा कर बिस्तर पर लिटा दिया और कंबल से ढंक दिया।
सिर पर कुल्हाड़ी से वार करते ही आनंद जमीन पर गिरा और उसकी मौत हो गई। इसके बाद पवन व उसकी पत्नी ने शव को उठा कर बिस्तर पर लिटा दिया और कंबल से ढंक दिया।

लूट और चोरी की वारदातों में कई बार जेल जा चुका है पवन
हत्या की जानकारी मिलने पर जब ग्रामीणों ने मौत का कारण पवन की पत्नी से पूछा तो वह किसी भी जानकारी से इनकार करती रही। लोग पवन की आपराधिक प्रवृत्ति के चलते भी कुछ नहीं बोल रहे थे। सुबह जब पुलिस तक बात पहुंची तो उसके आने से पहले पवन जंगल में भाग गया। ग्रामीणों ने बताया कि पवन पहले भी लूट और चोरी के मामले में 2-3 बार जेल जा चुका है। दो बार बाइक चोरी के मामले में भी पकड़ा गया था।

पत्नी को हिरासत में लिया गया, आरोपी की तलाश जारी
गौरेला थाना प्रभारी युवराज तिवारी ने बताया कि आरोपी पवन की पत्नी को हिरासत में लिया गया है। उससे पूछताछ कर रहे हैं। आरोपी ने पत्नी के उकसाने पर हत्या की है। वह जंगल की ओर कहीं भाग गया है। उसकी तलाश कर रहे हैं। जहां भी छिपा होगा पकड़ लेंगे।

खबरें और भी हैं...