पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही:सिल्ट पता करने सर्वे में 17 लाख फूंके, 6 करोड़ बजट पर डेढ़ साल में नहीं हटा सके

कोरबाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दर्री बराज की 20 प्रतिशत घट गई जल भराव क्षमता, एक किमी में डेढ़ लाख क्यूबिक मीटर कचरा जमा होने की मिली है रिपोर्ट
  • बरॉज में सिल्ट जमा होने से इस बार बारिश के समय पूरे सीजन में गेट खोलकर पानी छोड़ने की आई नौबत

हसदेव दर्री बराज की जल भराव क्षमता 20 प्रतिशत तक घट गई है। डेढ़ साल पहले सिंचाई विभाग ने सिल्ट का पता करने 17 लाख रुपए खर्च कर दिए। पर अब तक कचरा नहीं हटाया गया है। इसकी वजह से इस साल पूरे बारिश सीजन में गेट खोलकर नदी में पानी छोड़ना पड़ा। कचरा हटाने बजट में 6 करोड़ का प्रावधान भी है। इसके बाद भी अधिकारी ध्यान नहीं दे रहे हैं। दर्री बराज का निर्माण वर्ष 1965 में हुआ था। 55 साल पुराने बराज में हर साल बारिश के समय मिट्‌टी व राखड़ के साथ ही पेड़ बहकर आता है। नदी किनारे ही राखड़ डेम है। इससे सबसे अधिक कचरा राख ही है। बराज की क्षमता इसकी वजह से ही घटती जा रही है। सर्वे में 20 प्रतिशत भराव क्षमता कम होने का पता चला है। इसके बाद से विभाग ने सिल्ट का पता लगाने मेसर्स महामाया कंस्ट्रक्शन दुर्ग से सर्वे कराया और 17 लाख का भुगतान भी कर दिया, लेकिन इसका फायदा नहीं हुआ है। डेढ़ साल बाद भी अफसर ध्यान नहीं दे रहे हैं, जिससे पानी बचाने की योजना फेलस हो रही है। हसदेव दर्री बरॉज में हमेशा गेट बंद रहने पर 941 फीट पानी रखते हैं। इससे अधिक पानी होने पर गेट खोल कर नदी में पानी छोड़ दिया जाता है। पानी भराव की क्षमता कम होने पर बरॉज में पानी का भराव तेजी से होता है। इसकी वजह से बारिश के समय हमेशा गेट खोलने की नौबत आती है।

40 किमी में फैला है दर्री बराज का पानी, 14 उद्याेग को फायदा
हसदेव दर्री बरॉज का पानी भराव 40 किलोमीटर तक फैला हुआ है। इसके किनारे कई बस्तियां भी हंै। जहां बस्तियां हैं उसके किनारे भी काफी मात्रा में सिल्ट जमा हुआ है। इसके अलावा खाली जमीन पर बस्तियां भी बस गई हैं। बरॉज से अभी 14 उद्योगों को पानी दिया जा रहा है।

यह पड़ेगा असर : बांगो से अधिक पानी मंगाना पड़ेगा
भराव क्षमता कम होने से बांगो से अधिक पानी मंगाना पड़ेगा। सीएसईबी प्रबंधन व एनटीपीसी बराज से सीधे पानी लेते हैं। साथ ही सिंचाई यहीं से होती है। आगे जाकर बांगो के जलस्तर पर इसका प्रभाव पड़ने लगेगा। साथ ही सफाई की लागत भी बढ़ जाएगी।

एक किमी क्षेत्र से हटाएंगे सिल्ट 1 बार की सफाई से 30 साल फुर्सत
विभाग की योजना के अनुसार एक किलोमीटर क्षेत्र का ही सिल्ट हटाया जाएगा। अभी जितना सिल्ट जमा है उतना ही पानी भराव की क्षमता कम होती जा रही है। कमी पड़ने पर बांगो से पानी लिया जाता है। जिससे कमी नहीं होती। अगर सफाई हो जाए तो 30 साल तक सफाई की जरूरत नहीं होगी।

2 लाख 45 हजार हेक्टेयर में सिंचाई के लिए दे रहे पानी
दर्री बरॉज से ही दांयीं व बायीं तट नहर निकली है। भले ही जिले में मात्र 6 हजार हेक्टेयर में सिंचाई होती है लेकिन जांजगीर-चांपा जिले के साथ रायगढ़ जिले के खरसिया तहसील को जोड़कर 2 लाख 45 हजार हेक्टेयर में सिंचाई के लिए पानी दिया जाता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर विजय भी हासिल करने में सक्षम रहेंगे। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से ...

और पढ़ें