पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

जागा एयू प्रबंधन:22 दिन बाद परीक्षा नियंत्रक ने जारी की परीक्षा की संभावित तिथि

कोरबाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शैक्षणिक सत्र 2020-21 की मुख्य व सेमेस्टर परीक्षा 25 से ऑनलाइन मोड में कराई जा सकती है, विद्यार्थी रहें तैयार

12 अप्रैल के बाद अटल बिहारी वाजपेयी यूनिवर्सिटी प्रबंधन शांत हो गया था। इतना ही नहीं एक सप्ताह तक तो विभागीय वेबसाइट भी ठप पड़ी थी। इससे संबद्ध कॉलेजों के छात्रों को सूचनाएं मिलनी बंद हो गई थी। छात्र हित को देखते हुए दैनिक भास्कर ने इसे प्रमुखता से प्रकाशित भी किया था। खबर प्रकाशन के बाद न सिर्फ एयू की वेबसाइट शुरू हुई, वरन अगले ही दिन 5 मई की शाम मुख्य व सेमेस्टर परीक्षा की संभावित तिथि भी घोषित कर दी गई।

एयू के परीक्षा नियंत्रक ने जारी अधिसूचना में कहा है कि 25 मई से ऑनलाइन मोड में परीक्षाएं हो सकती हैं, इसके लिए छात्रों को तैयार रहना होगा। हेमचंद यूनिवर्सिटी, दुर्ग ने तो 5 मई से सेमेस्टर परीक्षाएं भी शुरू करा दी है। इतना ही नहीं लगातार सूचनाओं से अपडेट रहते हुए छात्रों को जानकारी भी दी जाती रही, जबकि एयू ने न सिर्फ कोरबा वरन अन्य जिलों के संबद्ध शासकीय व अशासकीय कॉलेजों को सूचना देना तक बंद कर दिए थे। अटल बिहारी वाजपेयी यूनिवर्सिटी, बिलासपुर से संबद्ध जिले के कॉलेजों में यूजी, पीजी, डिप्लोमा, पीजी सेमेस्टर, विधि संकाय में 28000 हजार छात्र हैं। इन सभी छात्रों को इस बार ऑनलाइन परीक्षा देनी है।

कई पेपर भी अब तक सेट नहीं हुए
पिछले सत्र में यूनिवर्सिटी ने छात्रों को प्रश्न-पत्र अपनी वेबसाइट, कॉलेजों के प्राचार्यों के मेल व छात्रों के यूजर आईडी पर दी थी। कॉलेजों ने छात्रों के वाट्सएप ग्रुप में प्रश्न-पत्र भेजा था। इस सत्र में ज्यादा छात्रों की परीक्षा यूनिवर्सिटी को लेनी है। अभी यूनिवर्सिटी की वेबसाइट बंद थी, जो चालू हो गई है। लॉकडाउन के कारण अधिकारी-कर्मचारी यूनिवर्सिटी नहीं आ रहे हैं। ऐसे में यूनिवर्सिटी ने अभी प्रश्न-पत्र अपलोड करने की प्रक्रिया की टेस्टिंग भी नहीं की है। कई पेपर भी सेट नहीं हुए हैं। परीक्षा नियंत्रक डॉ. पीके पाण्डेय के अनुसार परीक्षा संबंधी विस्तृत जानकारी व समय-सारणी जल्द जारी की जाएगी। छात्रों को वेबसाइट का अवलोकन करते रहना होगा।

आंसरशीट कैसे जमा होंगी, इसका निर्णय बाकी, बैठक तक नहीं ली
अटल बिहारी वाजपेयी यूनिवर्सिटी ने परीक्षा की प्रस्तावित तारीख जारी कर दी है, पर अब तक यह निर्णय नहीं ले पाई है कि छात्रों को उत्तरपुस्तिका कैसे मिलेगी और वे उन्हें जमा कैसे करेंगे। प्रश्न-पत्र कैसे मिलेगा, इसकी प्रक्रिया क्या होगी। कॉलेजों की क्या जिम्मेदारी होगी? इस पर भी निर्णय नहीं होना है। यहां तक की यूनिवर्सिटी ने अभी तक परीक्षा के संबंध में प्राचार्यों की बैठक तक नहीं ली है।

...तो प्रायोगिक परीक्षा बाद में होगी, नोटिफिकेशन जारी नहीं
यूनिवर्सिटी ने 25 मई से परीक्षा लेने की प्रस्तावित तिथि घोषित कर दी है। अगर ऐसा हुआ तो प्रायोगिक विषयों की परीक्षाएं लेना कॉलेजों के लिए चुनौती होगा। क्योंकि यूनिवर्सिटी ने भी प्रायोगिक परीक्षा को लेकर अब तक कोई नोटिफिकेशन जारी नहीं किया है। ऐसे में यह कहा जा रहा है कि थ्योरी परीक्षा के बाद छात्रों की प्रायोगिक परीक्षा होगी।

यूजी, पीजी व बीएड अंतिम वर्ष का पहले होगा पेपर
यूनिवर्सिटी सूत्रों के अनुसार पहले यूजी, पीजी और बीएड अंतिम वर्ष के छात्रों की परीक्षा होगी। उसके बाद पीजी सेमेस्टर व यूटीडी के छात्रों की परीक्षा होगी। हालांकि यूनिवर्सिटी की तैयारी अभी अधूरी है।

खबरें और भी हैं...