पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

भक्ति पर कोरोना का असर:पाली में बगैर शिवलिंग को स्पर्श किए करना पड़ा अभिषेक

कोरबाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • शिवालयों में श्रद्धालुओं ने सोशल डिस्टेंसिंग के साथ की पूजा, मंदिरों में किए दर्शन
Advertisement
Advertisement

लंबे समय बाद सावन के पवित्र मास में शिवभक्तों का उत्साह शिवालयों में नजर नहीं आया है। सावन का पहला दिन व सोमवार होने के बाद भी कोरोना संक्रमण के प्रभाव के कारण शिवभक्तों की भीड़ शिवालयों में नहीं जुटी।  जिले में दो प्रचीन व प्रसिद्ध शिव मंदिर हैं। इसमें एक कनकेश्वर धाम तो दूसरा पाली का महादेव मंदिर है। कनकी के कनकेश्वर धाम को सावन मास में श्रद्धालुओं के लिए प्रतिबंधित रखा गया है। तो पाली का मंदिर खुला है। जहां सोमवार को सुबह श्रद्धालुओं की भीड़ अभिषेक करनी पहंुंची। लेकिन उन्हें वहां बनाई गई व्यवस्था से होकर ही मंदिर में जाने मिला। इसके लिए उन्हें इंतजार करना पड़ा। जिले के प्राचीन शिव मंदिरों में जलाभिषेक करने वाले कांवड़ियों की टोली नहीं दिखी। प्रशासनिक गाइड लाइन के कारण सावन के पहले की शुरुआत सोमवार से हुई। लेकिन गाइड लाइन के कारण शिवभक्त अपने-अपने स्तर पर ही घरों में रहकर पूजा अभिषेक की रस्में निभाई।  पाली के शिवमंदिर में लोग जलाभिषेक करने पहुंचे। लेकिन वहां भी बनाई गई व्यवस्था को देखते हुए श्रद्धालुओं को काफी इंतजार करना पड़ा। मंदिर में एक-एक मीटर पर की गई मार्किंग में खड़े रहकर गर्भगृह में पहुंचने मिला और लोग अभिषेक कर पाए। अभिषेक के दौरान भक्तों को शिवलिंग को स्पर्श करने की अनुमति नहीं दी गई। लोग आते गए और जलाभिषेक कर बाहर निकलते रहे।

शहर व उपनगरों के मंदिरों में भी नहीं दिखी भीड़
शहर के साथ ही उपनगरों में स्थित शिवमंदिरों में सावन सोमवार पर पूजा अभिषेक करने वालों की संख्या सीमित रही। स्थिति यह रही लोग सामान्य दिनों की तरह ही पूजा करने पहुंचते रहे। किसी भी मंदिर में 5 से अधिक लोग नहीं दिखे। लोग खुद ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए पूजा करने पहुंचते रहे। यही वजह रही कि शहरी क्षेत्र के और आसपास के किसी भी शिव मंदिर में भीड़ नजर आई। इसका लाभ ये हुआ कि श्रद्धालुओं ने आसानी से बिना किसी परेशानी के भगवान भोलेनाथ के दर्शन किए। 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement