पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरबा को सौगात:मुख्यमंत्री बघेल का ऐलान-33 करोड़ से दर्री-गोपालपुर मार्ग फोरलेन बनेगा, लेमरू एलिफेंट रिजर्व पर जल्द करेंगे फैसला

कोरबाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
वर्चुअल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल। - Dainik Bhaskar
वर्चुअल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल।
  • रायपुर से सीएम ने वर्चुअल कार्यक्रम में कोरबा के लिए 104 करोड़ के कार्यों का किया लोकार्पण और भूमिपूजन

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने शुक्रवार को रायपुर से वर्चुअल कार्यक्रम में 104 करोड़ के विकास कार्यों का लोकार्पण व भूमिपूजन किया। उन्होंने महापौर की मांग पर दर्री बराज से गोपालपुर तक फोरलेन बनाने 33 करोड़ की मंजूरी दी। सांसद ज्योत्सना महंत की मांग पर बरबसपुर से गोपालपुर तक फोरलेन सड़क बनाने की घोषणा की। कटघोरा विधायक पुरुषोत्तम कंवर की मांग पर बिजली विभाग का भंडार गृह 2 महीने के भीतर शहर में स्थापित करने की मंजूरी दी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कुछ साल पहले किसान कर्जा मांगने साहूकार के दरवाजे पर खड़ा रहता था। सोसायटी में किसान डिफाल्टर हो जाता था । हर साल खाद बीज की चिंता रहती थी, लेकिन अब बड़ी-बड़ी फाइनेंस कंपनियां किसानों के दरवाजे पर खड़ी रहती हैं। कोई ट्रैक्टर तो कोई बाइक बेचना चाहता है। कंपनियों को मालूम है कि शहर से अधिक पैसा छत्तीसगढ़ के गांव में आ रहा है। इसलिए वे भी शहर से गांव की तरफ दौड़ रहे हैं। जब पूरे देश में मंदी थी तब सबसे ज्यादा ट्रैक्टर व बाइक छत्तीसगढ़ में ही बिक रहे थे। यह सब राज्य सरकार की रीति नीति से ही संभव हुआ है। वर्चुअल कार्यक्रम में राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल, विधायक ननकीराम कंवर, पुरुषोत्तम कंवर, मोहित केरकेट्टा , महापौर राज किशोर प्रसाद , जिपं अध्यक्ष शिवकला, उपाध्यक्ष रीना अजय जयसवाल, सभापति श्यामसुंदर, कलेक्टर व एसपी जुड़े थे।

महोरा की कौशल्या बाई ने और बकरी खरीदने की मांग की तो राजस्व मंत्री ने 49 हजार का चेक सौंपा।
महोरा की कौशल्या बाई ने और बकरी खरीदने की मांग की तो राजस्व मंत्री ने 49 हजार का चेक सौंपा।

कंवर बोले- प्रधानमंत्री भी बन जाएं सीएम ने कहा- मोदी जी सुन रहे होंगे
कार्यक्रम में भाजपा विधायक ननकीराम कंवर ने पहुंचकर सबको चौंका दिया। उन्होंने कहा कि आप अच्छा काम कर रहे हैं, लेकिन आप जो चाहते हैं यहां नहीं हो रहा है। एसडीएम व तहसीलदार मकानों को तोड़ रहे हैं। नगर निगम के विपक्ष के लोग खराब सड़क को लेकर आंदोलन करते हैं। उनके खिलाफ एफआईआर हो रही है। मेरी शुभकामनाएं है कि आप प्रधानमंत्री बनें। इस पर सीएम ने बीच में ही टोकते हुए कहा कि मोदी जी सुन रहे होंगे। तो कंवर ने कहा कि मोदी जी का पूरे विश्व में डंका है।

कंवर के आरोप पर जयसिंह बोले- कार्यों में रोड़ा बने तो होगी कार्रवाई
भाजपा विधायक कंवर के आरोपों को लेकर राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने तल्ख अंदाज में कहा कि उनके जो भी आरोप हैं वह सही नहीं हैं। मेयर के कक्ष में गिट्टी फेंकना निंदनीय है। भाजपा के शासनकाल में सड़क के लिए भीख मांगते थे, लेकिन कुछ नहीं मिलता था। अब सड़कें बन रही हैं। विकास कार्यों पर रोड़ा अटकाने का प्रयास किया जा रहा है। पुलिस व प्रशासन को अगाह करते हुए कहा कि जो भी विकास के कामों में रोड़ा अटकाएगा उसे बख्शा नहीं जाएगा।

जिले के इन विकास कार्यों का किया लोकार्पण और भूमिपूजन
पाली तानाखार क्षेत्र में दो करोड़ 26 लाख से 22 फ्लोराइड निवारण संयंत्र, कटघोरा में 5 करोड़ 80 लाख से लीलागर नदी पर पुल, छुरी में 25 लाख का उप स्वास्थ्य केंद्र भवन, 6 करोड़ 28 लाख से पोड़ी उपरोड़ा में बने 19 आवासीय भवन का लोकार्पण, 44 करोड़ 75 लाख रुपए से 141 गांवों में नल जल योजना, पाली ब्लॉक में एक करोड़ 91 लाख से गर्ल्स हॉस्टल, रामपुर क्षेत्र में 7 करोड़ 19 लाख से 16 सड़कों का नवीनीकरण, तीन करोड़ 25.लाख से 30 सीसी रोड का भूमिपूजन शामिल है।

जानिए... कार्यक्रम में मुख्यमंत्री के संबोधन की प्रमुख बातें
1. मुख्यमंत्री ने हितग्राहियों से सीधा संवाद भी किया। मोहरा की कौशल्या कंवर ने बकरी की मांग की तो उसे तुरंत ही 49 हजार रुपए का चेक राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने मंच में ही दिया।
2. मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना कम हो गया है, इसलिए जश्न ना मनाएं, तीसरी लहर आने वाली है। उसकी तैयारी कर रहे हैं।
3. गौठान समितियों के पदाधिकारी, किसान, समेत अन्य योजनाओं से लाभांवित हितग्राहियों से भी चर्चा की।
4. सीएम ने कहा कि आज वीरांगना महारानी लक्ष्मी बाई का बलिदान दिवस है। प्रदेश में बदलाव के पीछे नारी शक्ति ही है।

डॉ. महंत ने मुख्यमंत्री को राहुल गांधी के प्रवास की याद दिलाई
विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने कहा कि गरीबों वंचितों को सरकार आगे बढ़ा रही है। ग्रामीण अर्थव्यवस्था मजबूत हुई है । लेकिन राहुल गांधी जिस मुद्दे को लेकर मदनपुर पहुंचे थे , वह अभी अधूरा है । हाथी प्रभावित क्षेत्रों की समस्या बनी हुई है। लेमरू एलीफेंट प्रोजेक्ट में कहां प्रशासनिक दिक्कत है उसे दूर किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि उस समय आप भी साथ थे। इसलिए याद दिला रहा हूं। उस दिशा में काम करने की जरूरत है।

खबरें और भी हैं...