पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

वारदात:मुआवजा दलालों ने किया कर्मचारियों पर हमला

कोरबा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • शव का पीएम करने बना रहे थे दबाव, किया बलवा

जिला अस्पताल परिसर में पुलिस चौकी और मरच्यूरी मुआवजा दलालों का अड्‌डा बनता जा रहा है। जहां प्राकृतिक आपदा समेत सर्प व बिच्छू दंश, पानी में डूबने, सड़क हादसे में मौत होने पर उनके परिजनों से संपर्क कर पर्याप्त मुआवजा दिलाने के नाम से अपने झांसे में लेते हैं। इसके बाद कमीशन लेकर मुआवजा प्रकरण देखने वाले अधिवक्ताओं को केस सौंप देते हैं। शनिवार की दोपहर सर्पदंश के एक ऐसे ही केस में कुछ दलाल मरच्यूरी में पहुंचे थे। जहां मौत के एक मामले में कर्मचारी पीएम की तैयारी कर रहे थे। दलालों ने पहले सर्पदंश से मृत व्यक्ति के शव का पीएम करने को कहा। तब मरच्यूरी कर्मचारी बालचन्नैया ने मृतक के परिजनों को पहले आए केस के बाद पीएम करने की बात कहते हुए तब तक कफन कपड़ा लाने को कहा। इतने में मुआवजा दलाल गुस्से में आकर मरच्यूरी कर्मचारी से गाली-गलौच करने लगे। इतने में एक अन्य कर्मचारी के दामोदर ने उन्हें बालचन्नैया को गाली देने और मरच्यूरी से दूर रहने के लिए कहा। तब दलालों ने उसे जातिगत गाली-गलौच करते हुए अपने 5-6 साथियों को बुला लिया। इसके बाद दामोदर व बालचन्नैया पर उन्होंने हमला करते हुए बेदम पीटा। जिससे दामोदर घायल हो गया। रविवार को दामोदर व बालचन्नैया ने घटना की लिखित शिकायत की है।

पोस्टमार्टम का बहिष्कार
जिला अस्पताल के मरच्यूरी में कुछ माह पहले भी मुआवजा दलालों ने हंगामा किया था। जिसकी जानकारी होने के बाद भी मरच्यूरी के आसपास सुरक्षा व्यवस्था व निगरानी के लिए सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाए गए। शनिवार को पुन: मुआवजा दलालों के हौसले बढ़ गए और उन्होंने कर्मचारियों पर अपने काम में अड़ंगा डालने की बात कहते हुए हमला किया। घटना के विरोध और अपनी सुरक्षा बढ़ाने की मांग को लेकर मरच्यूरी कर्मचारियों ने वहां पीएम का बहिष्कार किया। वे सफाई कर्मचारी संघ के जिलाध्यक्ष सिकंदर उसरवर्षा के साथ एसपी ऑफिस पहुंचे।

संगठित गिरोह बनाया
मुआवजा दलालों ने संगठित गिरोह बना लिया है। सूत्रों के मुताबिक कुछ अधिवक्ता और डॉक्टर के अलावा अस्पताल चौकी के कुछ पुलिस कर्मी व कुछ पत्रकार भी इसमें शामिल है। अस्पताल सूत्रों के मुताबिक गैर मुआवजा वाले मर्ग के मामले में इस संगठित गिरोह द्वारा इस तरह से माहौल बनाया जाता है कि वह मुआवजा प्रकरण बन जाता है। अस्पताल कर्मी व एंबुलेंस चालकों का भी कमीशन बंधा है। हालांकि इन संगठित गिरोह के चलते संबंधित परिवार को प्रर्याप्त मुआवजा की रकम नहीं मिलती है क्योंकि करीब 40-50 प्रतिशत इनके द्वारा हड़प लिया जाता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थितियां आपके पक्ष में है। अधिकतर काम मन मुताबिक तरीके से संपन्न होते जाएंगे। किसी प्रिय मित्र से मुलाकात खुशी व ताजगी प्रदान करेगी। पारिवारिक सुख सुविधा संबंधी वस्तुओं के लिए शॉपिंग में ...

और पढ़ें