छत्तीसगढ़ में 10 केस:कोरबा में मिला एक और कोरोना पॉजिटिव, तब्लीगी जमात से लौटा 16 साल का लड़का संक्रमित

कोरबा2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
कोरबा में तब्लीगी जमात से लौटे एक किशोर की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद मस्जिद के बाहर स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ पहुंचे एसडीएम। - Dainik Bhaskar
कोरबा में तब्लीगी जमात से लौटे एक किशोर की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद मस्जिद के बाहर स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ पहुंचे एसडीएम।
  • जमात से 30 लोग लौटे थे, जिन्हें कटघोरा की दो अलग-अलग मस्जिदों में क्वारैंटाइन किया गया था
  • किशाेर समेत सभी लाेग नागपुर के रहने वाले, किशोर को रायपुर एम्स में भर्ती कराया गया

छत्तीसगढ़ में कोरोना पॉजिटिव का एक और मामला सामने आया। कोरबा की कटघोरा के मस्जिद में क्वारैंटाइन किए गए लोगों में से 16 साल के लड़का में कोरोना की पुष्टि हुई है। जिला प्रशासन ने उसे रायपुर एम्स में भर्ती कराया। छत्तीसगढ़ में यह सबसे कम उम्र के पॉजिटिव होने का मामला है। वहीं, कोरबा में संक्रमण का दूसरा केस है।  दरअसल, कामठी, नागपुर के 30 लाेग निजामुद्दीन में तब्लीगी जमात में शामिल हाेने के बाद 3-4 मार्च को कोरबा पहुंचे थे। धार्मिक स्थल की ओर से प्रशासन को इन यात्रियों के बारे में जानकारी दी गई थी। स्थानीय मस्जिद प्रबंधन की सूचना पर जिला प्रशासन ने इन्हें कटघोरा इलाके की ही दो मस्जिदों में अलग-अलग क्वारैंटाइन किया। सभी के सैंपल भी लिए गए थे। 

95 सैंपल लिए गए, 49 की रिपोर्ट निगेटिव, 2 पॉजिटिव, बाकी का इंतजार
प्रशासन ने 90 लोगों के सैंपल लिए थे। इनमें से 49 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई। जबकि लंदन से आया एक युवक पॉजिटिव मिला था। इसके बाद 45 लोगों की रिपोर्ट पैंडिंग थी और यह सभी तब्लीगी जमात से आए लोग थे। इसमें से एक की रिपोर्ट शनिवार को पॉजिटिव आई। बाकी की रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। 

प्रदेश में अब तक 10 मामले सामने आए, 4 ठीक होकर घर लौटे
प्रदेश में कोरोना पॉजिटिव के अब तक 10 मामले सामने आ चुके हैं। अच्छी बात यह है कि इनमें से 4 स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके हैं। कोरोना संक्रमण की इस लड़ाई में रायपुर के रामनगर में रहने वाले 68 साल के बुजुर्ग ने भी महज पांच दिन में इसे मात दी है। शुक्रवार को रायपुर की पहली पॉजिटिव युवती को भी अस्पताल से घर भेज दिया गया। सऊदी अरब से लौटे भिलाई के 33 साल के युवक की लगातार दो रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद एम्स से डिस्चार्ज किया गया। इसके अतिरिक्त बुधवार को बिलासपुर की महिला को भी अपोलो अस्पताल से छुट्‌टी दे दी गई है।

सबसे पहले रायपुर में 19 मार्च को सामने आया था पहला मामला

  • 19 मार्च : रायपुर की समता कॉलोनी निवासी 23 वर्षीय युवती पॉजिटिव मिली। वह लंदन से लौटी थी।
  • 25 मार्च : 2 मामले सामने आए। पहला राजनांदगांव में और दूसरा रायपुर में ही। राजनांदगांव के भरकापारा निवासी 30 वर्षीय युवक थाईलैंड से घूमकर लौटा था। वहीं, रायपुर के सुभाष स्टेडियम इलाके की रहने 30 वर्षीया युवती लंदन से लौटी थी। जानकारी छिपाने पर युवती पर एफआईआर दर्ज की गई।
  • 26 मार्च : 3 नए केस बिलासपुर, रायपुर और भिलाई में सामने आ गए। बिलासपुर के रामालाइफ में 64 वर्षीया महिला का सैंपल पॉजिटिव आया। महिला दुबई से लौटी थी और अपनी जानकारी छिपाई। वहीं, भिलाई जोन सेक्टर 2 के खुर्सीपारा का रहने वाला युवक भी दुबई से लौटा। उसमें भी पॉजिटिव की पुष्टि हुई। जबकि रायपुर के रामनगर में 60 वर्षीय वृद्ध पॉजिटिव मिले। उनकी राज्य या विदेश यात्रा की कोई हिस्ट्री नहीं है।
  • 28 मार्च : रायपुर के ही देवेंद्र नगर में 21 वर्षीय युवक कोरोना पॉजिटिव मिला। वह भी यूके से ही लौटा था। पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी।
  • 30 मार्च : कोरबा में भी एक युवक में कोरोना की पुष्टि हुई। इसके बाद उसे रायपुर एम्स में भर्ती कराया गया। यह युवक भी यूके से लौटा था।
  • 31 मार्च : रायपुर के ही रोहणीपुर में एक युवती पॉजिटिव मिली। उसकी भी ट्रेवेल हिस्ट्री लंदन की है
  • 04 अप्रैल : कोरबा में तब्लीगी जमात से आए हुए 16 वर्षीया एक किशोर पॉजिटिव मिला।