पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जिम्मेदार नहीं दे रहे ध्यान:मुख्य डाकघर से रेलवे टिकट आरक्षण की सुविधा देने विभाग गंभीर नहीं, एक-दूसरे पर दोषारोपण

कोरबा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • लॉक डाउन के पहले से बंद आरक्षण काउंटर अब तक नहीं हो सका शुरू

निहारिका क्षेत्र के साथ रजगामार, बालको व आसपास के लोगों के रेलवे की टिकट बुक कराने के लिए स्टेशन न जाना पड़े इसके लिए मुख्य डाकघर में आरक्षण काउंटर शुरू किया गया था। जो लॉकडाउन से पहले से ही बंद पड़ा है। अब यह काउंटर लगभग बंद हो गया है। इसे शुरू करने के लिए न तो रेलवे की ओर से कोई पहल की जा रही है न ही डाक विभाग की ओर से। जिसका खामियाजा क्षेत्र के लोगों का भुगतना पड़ रहा है। कोसाबाड़ी स्थित मुख्य डाकघर में 29 अप्रैल 2014 को आरक्षण सेवा शुरू हुई थी। जिस उद्देश्य से काउंटर शुरू किया गया था वह अब लोगों को नहीं मिल रहा है। लेकिन जिम्मेदार अधिकारियों से जब कभी भी काउंटर बंद होने का कारण पूछा जाता है तब उनके द्वारा सर्वर प्राब्लम बताकर अपनी जिम्मेदारी से मुक्त हो जाते हैं। वहीं रेलवे के अधिकारियों से बात करने पर पता चलता है कि अनुबंध के अनुसार काउंटर पर डाक विभाग का ही कर्मचारी सेवा देगा। लेकिन उनकी ओर से अपने कर्मचारी की ड्यूटी काउंटर पर नहीं लगाई जा रही है। जिसके कारण यह समस्या आ रही है। अनुबंध के अनुसार डाक विभाग काम नहीं कर रहा है। इसके बाद भी लॉकडाउन के बाद मई में काउंटर पुन: शुरू करने रेलवे ने डाक विभाग को कहा था। फिर भी बंद पड़ा है। बताया जा रहा है कि रेलवे का सर्वर ठीक है, पर डाकघर में आ रही तकनीकी दिक्कत के चलते वह रेलवे के सर्वर से कनेक्ट नहीं हो पा रहा। परिणाम स्वरूप डाकघर के आरक्षण काउंटर में टिकट बुकिंग का कार्य ठप हो गया है। पहले ही रेलवे ने शहर के पुराने टिकट आरक्षण केंद्रों में ताला लगा रखा है। समान्य दिनों में इस काउंटर से प्रतिदिन औसतन 60 से 80 टिकट यात्रियों द्वारा आरक्षित कराया जाता था। केंद्र शुरू करने के समय उम्मीद जताई गई थी कि शहर के इस क्षेत्र में डाकघर के अंदर रेलवे आरक्षण की सुविधा से लोगों को बेहतर लाभ मिल सकेगा, पर ऐसा नहीं हो रहा। अब मोबाइल पर उपलब्ध रेलवे की ई-टिकटिंग सेवा बेहतर होने व प्रचलन में वृद्धि से कुछ राहत जरूर मिली है।

उपनगरों में काउंटर ही नहीं, लोग अधिक परेशान
सुविधा के लिए शहर के अन्य स्थानों में काउंटर बढ़ाने की बात कही जा रही थी। इसके विपरीत गीतांजलि भवन में संचालित ई-सेवा सेंटर, जमनीपाली, बालको व कटघोरा के आरक्षण केंद्रों को एक-एक कर ताला लगा दिया गया। विशेषकर कटघोरा के लोगों को आरक्षण सेवाओं का लाभ लेने 40 किलोमीटर दूर से कोरबा आना पड़ रहा है। इसी तरह बालको से दस किलोमीटर, जमनीपाली से 15 व दीपका से 25 किलोमीटर का रास्ता तय कर लोगों को स्टेशन आना पड़ रहा है।

अब शहर मात्र एक काउंटर की सुविधा
पुराना बस स्टैंेड स्थित गीतांजलि भवन ई-सेवा केंद्र का रेलवे काउंटर पहले ही बंद हो गया है। शहर के लोग डाकघर का रूख कर रहे थे। रविवार का अवकाश छोड़कर सप्ताह के छह दिन तक उपलब्ध कराने सुबह आठ से दोपहर 12 बजे तक का वक्त निर्धारित किया गया था, जिसे लोगों की संख्या को देखते हुए बाद में बढ़ाया भी गया। स्टेशन के रेलवे आरक्षण केंद्र के बाद अब शहर में सिर्फ निहारिका का यात्री सुविधा केंद्र ही है, जहां लोगों को आरक्षण सुविधा मिल रही।

रेलवे के सर्वर में आ रही दिक्कत
मुख्य डाकघर कोरबा के डाकपाल एमआर कुर्रे ने बताया कि रेलवे के सर्वर में तकनीकी दिक्कत है, जिसकी वजह से आरक्षण सेवा बाधित है। रेलवे की ओर से निरीक्षण किया गया था, पर अब तक सुधार की दिशा में कोई कवायद नहीं की जा सकी है। रेलवे के अधिकारियों से संपर्क कर पुनः सेवा बहाल करने कहा जाएगा, ताकि लोगों को राहत मिले।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां आपको कई सुअवसर प्रदान करने वाली हैं। इनका भरपूर सम्मान करें। कहीं पूंजी निवेश करने के लिए सोच रहे हैं तो तुरंत कर दीजिए। भाइयों अथवा निकट संबंधी के साथ कुछ लाभकारी योजना...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser