पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कुसमुंडा खदान में हादसा:कुसमुंडा खदान में कराेड़ाें की इलेक्ट्रिक ड्रिल मशीन जली, ऑपरेटर ने कूदकर बचाई जान

कोरबाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एसईसीएल की कुसमुंडा खदान के ओवरबर्डन (ओबी) फेस में काम के दाैरान एक इलेक्ट्रिक ड्रिल मशीन में आग लग गई। ड्रिल मशीन के ऑपरेटर ने कूदकर अपनी जान बचाई। बाद में मशीन में इलेक्ट्रिक सप्लाई के लिए लगे केबल काे अलग कर आग पर काबू पाने काेशिश की गई।

खदान में फायर टैंकर के जरिए काफी मशक्कत कर आग पर काबू पाया जा सका। ड्रिल मशीन में आग लगने का कारण शाॅर्ट-सर्किट काे माना जा रहा है। घटना शनिवार दाेपहर करीब 12 बजे हुई। कुसमुंडा खदान में ओवरबर्डन फेस पर बारूद लगाकर विस्फाेट करने इलेक्ट्रिक ड्रिल मशीन 706 से ड्रिलिंग का काम किया जा रहा था।

इसी दाैरान अचानक मशीन से धुंअा उठने लगा। देखते ही देखते पूरी मशीन आग की लपटाें से घिर गई। मशीन पर बैठे ऑपरेटर ने कूदकर अपनी जान बचाई। इस घटना काे देख आसपास उपस्थित अन्य काेयला कर्मी माैके पर पहुंचे और इसकी सूचना खदान के अफसराें व दमकल काे दी। खदान के एक अधिकारी ने कहा कि शाॅर्ट-सर्किट से आग लगने की आशंका है, लेकिन जांच के बाद ही घटना का सहीं कारण स्पष्ट हाेगा। ये भी कहा जा रहा है कि मशीन काे लगातार चलाने व धूप के कारण गर्मी से इंजन हीट हाे गया था।

खबरें और भी हैं...