पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से बचाव जरूरी:वैक्सीनेशन का डर होने लगा दूर, एक माह में 80 % वर्कर लगवा चुके कोरोना का टीका

कोरबा11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 11 हजार लाभार्थियों में 9 हजार 900 का वैक्सीनेशन, 280 को लग चुका सेकंड डोज

कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने 16 जनवरी से शुरू हुए वैक्सीनेशन की शुरुआती दौर में सोशल मीडिया में फैले अफवाह के कारण फ्रंटलाइन वर्करों में भी डर था। इसलिए कोरोना टीका लगवाने वाले फ्रंटलाइन वर्करों की रुचि कम थी। सूची में नाम आने के बाद भी ज्यादातर वर्कर वैक्सीनेशन सेंटर नहीं पहुंच रहे थे, लेकिन टीका लगवाने वाले अन्य वर्करों के स्वस्थ रहने और सरकारी और निजी डॉक्टरों के टीका लगवाकर प्रेरित करने का असर पड़ा। इसके बाद ऐसे फ्रंटलाइन वर्करों में वैक्सीने शन का डर दूर होने लगा और वे टीका लगवाने पहुंचने लगे हैं। जिले में स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर-कर्मचारियों समेत आंगनबाड़ी कार्यकर्ता और मितानिन समेत कुल 11 हजार फ्रंटलाइन वर्कर हैं। एक माह पूरे होने के बाद अब तक उनमें से 9 हजार 900 वर्कर टीका लगवा चुके हैं, जो कुल लाभार्थी का 80 प्रतिशत है। वहीं पहला डोज लगवा चुके वर्करों में 280 वर्करों को कोरोना टीका का सेकंड डोज भी लग चुका है।

अगले चरण में बुजुर्ग-बीमार का होगा टीकाकरण, तैयार की जा रही है सूची
स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक फ्रंटलाइन वॉरियर्स स्वास्थ्य कर्मचारियों, प्रशासनिक-पुलिस अमले के टीकाकरण पूरा होने के बाद अगले चरण में बुजुर्ग समेत गंभीर बीमारी से ग्रसित लोगों का टीकाकरण होगा। अभी तिथि तय नहीं है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा लाभार्थियों की सूची तैयार की जा रही है।

34 प्रतिशत प्रशासनिक पुलिस अमले को दूसरे चरण में लगाया जा चुका है टीका
जिले में दूसरे चरण में प्रशासनिक और पुलिस अमले के अधिकारी-कर्मचारियों का टीकाकरण हो रहा है। इसमें प्रशासन, निगम व पुलिस के 6478 लाभार्थी हैं। महज 10 दिनों के भीतर ही इसमें से 2200 कर्मचारियों ने टीका लगवा लिया है, जो कुल लाभार्थी का 34 प्रतिशत है।

जिले में 7 नए संक्रमित मिले, सावधानी जरूरी
जिले में कोरोना संक्रमण पिछले 1 महीने से नियंत्रित है। इस कारण संक्रमित मरीजों की संख्या दहाई के अंक से नीचे है। गुरुवार को भी फिर एक बार जिले से 7 नए संक्रमित मरीज की पुष्टि हुई है। हालांकि महाराष्ट्र में एकाएक कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी के बाद जिले में भी स्वास्थ्य विभाग ने फिर से लोगों से सावधानी बरतने की अपील की है। जिले में अब तक कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 17000 से पार हो गई है। वहीं अब तक 126 लोग की कोरोना से मौत हो चुकी है।

अधिकांश महिला कर्मी इसलिए लक्ष्य से पीछे
कोरोना टीकाकरण से जुड़े अफसराें ने बताया कि जिले में फ्रंटलाइन वर्करों के वैक्सीनेशन का लक्ष्य इसलिए पीछे हैं, क्योंकि स्वास्थ्य विभाग में अधिकांश महिला कर्मी है। इसके अलावा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता व मितानिन भी महिलाएं है। गर्भवती होने या फैमिली प्लानिंग के चलते वे कोरोना टीका नहीं लगवा सकती। इसलिए विभाग लक्ष्य से पीछे हैं।

वैक्सीनेशन में आई तेजी किसी को नुकसान नहीं
जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. पुष्पेश कुमार ने बताया कि जिले में कोरोना वैक्सीनेशन में तेजी आई है। पहले चरण में 80 प्रतिशत वर्करों ने टीका लगवा लिया है। सेकंड डोज का दौर भी शुरू हो गया है। वहीं प्रशासनिक-पुलिस अमले के करीब 34 प्रतिशत वर्करों का भी टीकाकरण हो गया है। अब तक टीका लगवाने से किसी को नुकसान नहीं पहुंचा है।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

    और पढ़ें