पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

खतरे में पति को देख आई हिम्मत:पति पर दो भालुओं ने किया हमला तो उसे बचाने डंडा लेकर भिड़ गई पत्नी, पीट-पीटकर भालू को भगाया

काेरबा6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • लेमरू के अलगीडाेंगरा के जंगल की घटना, महिला भी घायल

जंगल में बकरी चराने गए दंपती में से पति पर दाे भालू ने हमला कर दिया। थाेड़ी दूर माैजूद पत्नी अपने पति की जान काे खतरा देख लाठी लेकर भालुओं से भिड़ गई। महिला काे भारी पड़ता देखकर भालू वहां से भाग गए। हालांकि इस दाैरान भालुओं के हमले से महिला भी घायल हाे गई। उसे जिला अस्पताल भर्ती कराया गया, जहां उसका इलाज चल रहा है।

जिले के सुदूर वनांचल क्षेत्र लेमरू के अल्गीडाेंगरी गांव निवासी पवित्तर सिंह शनिवार काे अपनी पत्नी इतवारी बाई के साथ बकरी चराने पास के जंगल गया था। यहां से शाम 5 बजे वे बकरी लेकर गांव लाैट रहे थे। आगे इतवारी थी और बकरियाें के पीछे पवित्तर सिंह चल रहा था। अचानक झाड़ी से निकले दाे भालुओं ने पवित्तर पर हमला कर दिया। चीखने की आवाज सुनकर इतवारी पलटी ताे पति काे भालुओं से घिरा पाया, जाे उस पर हमला कर रहे थे। इतवारी के हाथ में डंडा था। वह पति काे बचाने दौड़ते हुए वहां पहुंची। हाथ में रखे डंडे को हथियार की तरह चलाते हुए भालुओं से भिड़ गई।

साथ ही वह भालुओं काे भगाने चिल्लाकर शाेर मचाती रही, जिससे भालुओं काे भागना पड़ा। हालांकि इस दाैरान उनके हमले से इतवारी बाई काे भी शरीर पर जख्म लगा और वह घायल हाे गई। जंगल से आ रहे शाेर काे सुनकर कुछ ग्रामीण वहां पहुंचे ताे घटना का पता चला। उन्हाेंने घायल इतवारी बाई और उसके पति पवित्तर सिंह काे गांव लाया। इसके बाद 108 संजीवनी एक्सप्रेस की मदद से उन्हें शहर के मेडिकल काॅलेज हाॅस्पिटल में भर्ती कराया। इलाज के बाद डाॅक्टर ने उसकी हालत खतरे से बाहर बताई। पवित्तर सिंह काे हल्की चाेट लगी थी, जिसका प्राथमिक इलाज किया गया।

पति काे खतरे में देख आ गई हिम्मत
इतवारी बाई ने बताया कि जंगल में बकरी चराकर लाैटते समय पति कुछ देर पर थे। अचानक पीछे से आए भालुओं ने उन पर हमला किया। पति काे खतरे में घिरा देखा तब बचाव के लिए काेई और मदद नहीं दिखी। ऐसे में खुद ही हिम्मत आ गई और डंडा चलाते हुए उनसे भिड़ गई। साेच लिया था पति काे हर हाल में बचाना है। इतवारी बाई के मुताबिक उसके घायल हाेने के बाद उसे अस्पताल लाया गया। ग्रामीणाें ने वन विभाग काे सूचना दी, लेकिन रविवार दाेपहर तक मदद नहीं मिली।

खबरें और भी हैं...