पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लीपापोती:सूखे धान के नाम पर हर बोरे में दो किलो अधिक ले रहे, अफसर बोले- जांच में नहीं मिली गड़बड़ी

कोरबा2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • करतला के केरवाद्वारी, उमरेली अाैर कोरबा ब्लाॅक के कुदुरमाल केंद्र में सामने आया मामला

धान खरीदी शुरू हुए 38 दिन गुजर गए, लेकिन खरीदी के समय गड़बड़ी में कमी नहीं आ रही है। इधर पहले रकबा कटौती और बाद में कम उत्पादन प्रमाण-पत्र देने से किसान परेशान थे। अब सूखत के नाम पर एक से डेढ़ किलो धान अधिक लेने की शिकायत मिल रही है। दूसरी ओर अधिकारियों का कहना है कि जांच करा रहे हैं। अब तक गड़बड़ी नहीं मिली है। जिले के 41 समितियों में 49 केन्द्रों में धान की खरीदी की जा रही है। धान बेचने के लिए 32589 किसानों ने पंजीयन कराया है। अब तक 18066 किसान 130 करोड़ रुपए का धान बेच चुके हैं। सबसे अधिक नवापारा में 732 किसानों ने धान बेचा है। धान की मात्रा 7 लाख क्विंटल से पार हो चुकी है। नवापारा में ही सबसे अधिक 37152 क्विंटल धान की खरीदी हुई है। धान का उठाव खरीदी के 15 दिन बाद शुरू हुआ। इसकी वजह से अभी भी ढाई लाख क्विंटल धान समितियों में उठाव के लिए बचा है। समिति के लोग धान का वजन कम न हो इसके लिए 40 किलो के बारदाने में दो किलो तक अधिक तौल कर रहे हैं। किसान सीधे शिकायत नहीं कर रहे हैं। वे पहले से ही कम उत्पादन प्रमाण-पत्र के कारण परेशान हैं।

हर बारदाने में 400 ग्राम तक अधिक धान ले रहे हैं
करतला ब्लाॅक के केरवाद्वारी में हर बारदाने में 400 ग्राम धान अधिक ले रहे हैं। एक बारदाने में 40 किलो धान तौला जाता है, लेकिन यहां 40 किलो 400 ग्राम धान तौला जा रहा है। एक किसान ने बताया कि जल्दी तौल हो जाए यह सोचकर विरोध भी नहीं करते। इसी का फायदा उठाते हैं।

उमरेली में दो किलो से अधिक ले रहे धान
उमरेली खरीदी केंद्र में इलेक्ट्राॅनिक तौल मशीन की जगह तराजू बाट से वजन किया जा रहा है। यहां भी 400 ग्राम से लेकर पौने दो किलो अधिक धान तौल दिया गया। एक दिन में हजारों बोरियां तौल होती हैं। इसकी वजह से पता ही नहीं चलता कि किस बोरे में अधिक धान तौला गया है।

बारदाने फटे होने की वजह से अधिक वजन
कुदुरमाल खरीदी केंद्र में 300 से 500 ग्राम अधिक धान का तौल किया जा रहा था। यहां 9 मजदूर होते हुए भी किसान ही काम में लगे थे। फड़ प्रभारी चंद्रकिशोर राठौर से चर्चा की गई तो कह दिया कि बारदाने फटे होने से सिलाई की गई है। इससे ही वजन अधिक आ रहा है।

शिकायत पर करा रहे जांच
उप पंजीयक सहकारी संस्थाएं बसंत कुमार ने कहा जहां भी शिकायत मिल रही है, वहां जांच कराई जा रही है। सहकारी बैंक के सुपरवाइजर जमाल खान को भी जांच कर दो दिनों में रिपोर्ट देने कहा है।

खड़े होकर कराते हैं तौल
जिला खाद्य अधिकारी जेके सिंह ने कहा किसान मौके पर ही धान का तौल कराते हैं। अगर अधिक वजन कर रहे हैं तो विरोध करें। शिकायत मिलने पर जांच कराई जाएगी।

सीधी बात
एसके जोशी, नोडल अिधकारी, जिला सहकारी बैंक

सवाल - खरीदी केंद्रों में सूखत के नाम पर अधिक धान लिया जा रहा है?
- शिकायत मिलने पर जांच करा रहे हैं, मैं खुद भी केन्द्रों में गया था। किसानों से भी बयान लिया जा रहा है।
सवाल - किसान शिकायत करने से डर रहे हैं, लेकिन धान का उठाव नहीं होने से मात्रा कम होने पर इसकी भरपाई के लिए प्रभारी ऐसा कर रहे हैं?
-ऐसा कुछ भी नहीं है। ग्राम उमरेली और फरसवानी मैं स्वयं गया था। केरवाद्वारी में भी जांच करवा रहा हूं। जांच चल रही है। गड़बड़ी मिलने पर कार्रवाई जरूर की जाएगी।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

    और पढ़ें