पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मजदूरों काे मिला काम:तेंदूपत्ता संग्रहण बंद होने पर मनरेगा में बढ़ गए 14 हजार से अधिक मजदूर, 378 पंचायतों में चल रहा काम

कोरबा25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • तालाब गहरीकरण के साथ ही स्टॉप डेम, सिंचाई कूप निर्माण को दी जा रही प्राथमिकता

कोरोना संक्रमण की वजह से इस बार पंचायतों में भी कामकाज प्रभावित रहा है। कंटेनमेंट जोन होने से कार्यों को बंद करना पड़ा। अब तेंदूपत्ता संग्रहण बंद होने के बाद मजदूरों की संख्या भी बढ़ रही है। पहले मनरेगा में 38 हजार मजदूर काम कर रहे थे वह बढ़कर 52 हजार से अधिक हो गई है।

तेंदूपत्ता संग्रहण ग्रामीणों के आय का एक बड़ा जरिया है। लेकिन बदली बारिश के कारण संग्रहण का काम भी प्रभावित रहा इसके बाद भी कोरबा वन मंडल में पिछले साल की अपेक्षा 18 प्रतिशत अधिक तेंदूपत्ता संग्रहण हुआ है। अब सभी समितियों में संग्रहण बंद हो गया है। जिसकी वजह से मनरेगा में मजदूर अब बढ़ रहे हैं। जिले के 412 में से 378 ग्राम पंचायतों में मनरेगा के तहत् 1826 कार्य कराए जा रहे हैं। जिसमें 52102 मजदूरों को काम मिल रहा है । जनपद पंचायत करतला के 71ग्राम पंचायतों में 291 कार्यों में 8512 मजदूर, जनपद पंचायत कटघोरा के 43 ग्राम पंचायतों में 114 कार्यों में 5299 मजदूर, जनपद पंचायत कोरबा के 73 ग्राम पंचातयों में 531 कार्यों में 9034 मजदूर, जनपद पंचायत पाली के 86 ग्राम पंचायतों में 340 कार्यों में 13980 मजदूर एवं जनपद पंचायत पोड़ी उपरोड़ा के 105 ग्राम पंचायतों में 550 कार्यों में 15277 मजदूर काम कर रहे हैं।

5 सूत्र का पालन ताकि संक्रमण ना फैले
मजदूरों को काम के दौरान पंचसूत्र पालन करने की समझाईस दी जा रही है। रोजगार सहायकों के माध्यम से ग्रामीणों को बताया जा रहा है कि घर से बाहर निकलते समय और काम के दौरान मुुंह व नाक को साफ कपड़े या गमछे से ढंक कर रखें। साथ ही कार्यस्थल पर कम से कम एक मीटर की दूरी बनाना जरूरी है। साबुन से बार-बार हाथ धोने के लिए प्रेरित किया जा रहा, ताकि कोरोना से बच सकें।

नए तालाब के साथ पीएम आवास का शुरू हुआ काम
मनरेगा के 1826 कार्यों में जल संरक्षण व जल संवर्धन के साथ हितग्राही मूलक कार्यों को प्राथमिकता दी गई है। जिसमें सामुदायिक तालाब निर्माण, तालाब गहरीकरण, डबरी निर्माण, सिंचाई कूप निर्माण, गली प्लग, लूज बोल्डर, कंटूर बंड, परकोलेशन टैंक, गैबियन संरचना, डाईकवाॅल, मेड़ बंधान,रिचार्ज पिट,नर्सरी कार्य, गोठान निर्माण, चारागाह निर्माण प्रधानमंत्री आवास निर्माण, मुर्गी शेड एवं कोठा कोटना निर्माण कार्य शामिल है।

खबरें और भी हैं...