पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

तैयारी:शहर में 10 साल में बढ़ गए 20 प्रतिशत से अधिक मकान संपत्तिकर बढ़ाने होगा सर्वे, ठेका कर्मी वसूलेंगे हाउस टैक्स

कोरबा10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नगर निगम के 67 वार्डों में 55 से 60 प्रतिशत तक हो पाती है संपत्तिकर की वसूली, कर्मचारियों के रिटायर होने से बढ़ी परेशानी

नगर निगम अपनी आय बढ़ाने के लिए नए-नए प्रयोग कर रहा है। पेयजल आपूर्ति का काम ठेके में देने के बाद अब संपत्तिकर वसूली के लिए भी ठेका कंपनी निर्धारित करने का निर्णय लिया है। 10 साल में 20 प्रतिशत से अधिक मकान बढ़ गए। लेकिन सर्वे नहीं होने से संपत्तिकर के दायरे में नहीं है। ऐसे मकानों का सर्वे के बाद संपत्तिकर निर्धारित किया जाएगा। साथ ही आगे ठेका कर्मी ही टैक्स की वसूली करेंगे। इससे निगम की आय तो बढ़ेगी, दूसरी ओर विपक्ष इसे निजीकरण बताकर विरोध कर रही है। निगम के 67 वार्डों में अभी 55 हजार 5 लोग ही संपत्तिकर दाता है। 10 साल में कई बस्तियां व कॉलोनी विकसित हुई है। साथ ही स्लम बस्तियों में भी इजाफा हुआ है। साथ ही टैक्स वसूली नहीं हो पाती। मात्र 55 से 60 प्रतिशत टैक्स ही निगम को मिल पाता है। पिछले कार्यकाल में ही संपत्तिकर वसूली का काम ठेके पर देने का प्रस्ताव आया था। लेकिन इसे पार्षदों के विरोध के बाद टाल दिया गया। अब नए कार्यकाल की शुरूआत में ही संपत्तिकर सर्वेक्षण, निर्धारण व वसूली का काम ठेका कंपनी को देने का निर्णय लिया गया है। एजेंसी अपने कर्मियों से सर्वे का कार्य कराएगी। इससे निगम की आय बढ़ेगी। साथ ही बकायादारों से वसूली में तेजी आएगी। वर्ष 2016 में संपत्तिकर बढ़ाने के लिए 50 प्रतिशत की वृद्धि की गई थी। जिसका कांग्रेस ने विरोध किया था। पिछले वर्ष हाईकोर्ट ने आयुक्त के आदेश को निरस्त कर दिया था। इसके बाद संपत्तिकर में 50 प्रतिशत छूट मिली। जो लोग टैक्स जमा कर चुके थे। उनका समायोजन किया गया।

कर्मचारी की कमी बताकर हर साल नहीं भेजते नोटिस
निगम पहले हर साल घरों में टैक्स जमा करने नोटिस भेजता था। लेकिन लंबे समय से नोटिस देना बंद हो गया। इसकी वजह से भी स्लम बस्तियों के लोग टैक्स जमा करने में रूचि नहीं ले रहे हैं। शहर में जोन स्तर पर टैक्स वसूली के लिए शिविर लगाया जाता है। उसमें भी आधे से ज्यादा करदाता नहीं पहुुंचते।

नगर निगम में राजस्व अधिकारी के 50 पदों में से 20 रिक्त
निगम में संपत्तिकर वसूली के लिए 50 पद मंजूर है। जिसमें से 30 सहायक राजस्व निरीक्षक पदस्थ हैं। इसके अलावा 4 राजस्व निरीक्षक, एक राजस्व उप निरीक्षक व 4 राजस्व अधिकारी पर्यवेक्षण का कार्य करते हैं। कर्मचारियों के रिटायर होने के बाद नई भर्ती नहीं होने से संपत्तिकर वसूली प्रभावित हुई है।

आवासीय भवन मुख्य सड़क व बाजार से हटकर कितना टैक्स (प्रति वर्गफुट)

  • पक्का मकान- 20 रुपए
  • टाइल्स युक्त मकान- 15 रुपए
  • आंशिक कच्चे-पक्के मकान- 10 रुपए

औद्योगिक भवन मुख्य सड़क व मुख्य बाजार पर कितना टैक्स (प्रति वर्गफुट)

  • पक्का मकान- 50 रुपए
  • टाइल्स युक्त मकान- 40 रुपए
  • आंशिक कच्चे-पक्के मकान- 25 रुपए

टैक्स में बढ़ोतरी का निगम को मिलेगा लाभ: महापौर
महापौर राजकिशोर प्रसाद का कहना है कि वर्ष 2010-11 से मकानों का सर्वे ही नहीं हुआ है। कई लोग प्रापर्टी टैक्स के दायरे में नहीं है। सर्वे से इनका नाम भी जुड़ेगा। सब कुछ ऑनलाइन होने से लोगों को फायदा मिलेगा। इससे निगम की आय बढ़ेगी। साथ ही वसूली समय पर हो पाएगी। इससे विकास कार्यों में राशि की कमी नहीं होगी।

आउटसोर्सिंग को बढ़ावा दे रही कांग्रेस: नेता प्रतिपक्ष
निगम के नेता प्रतिपक्ष हितानंद अग्रवाल का कहना है कि कांग्रेस आउटसोर्सिंग को बढ़ावा दे रही है। निगम के पास अमले की कमी नहीं है। सर्वे के बजाय जो लोग भवन निर्माण की अनुमति लेते हैं उसके आधार पर टैक्स तय करना चाहिए। ठेका देने से निगम पर भार बढ़ेगा। लोगों को फायदा होने वाला नहीं है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- परिस्थितियां आपके पक्ष में है। अधिकतर काम मन मुताबिक तरीके से संपन्न होते जाएंगे। किसी प्रिय मित्र से मुलाकात खुशी व ताजगी प्रदान करेगी। पारिवारिक सुख सुविधा संबंधी वस्तुओं के लिए शॉपिंग में ...

और पढ़ें