पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शांति समिति की बैठक:रावण के पुतला दहन में डीजे, धुमाल समेत कोई साउंड सिस्टम नहीं बजेगा, समिति के 50 सदस्य ही होंगे शामिल

कोरबाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • दो आयोजन स्थल की दूरी 500 मीटर होने पर मिलेगी कार्यक्रम की शासकीय अनुमति

दशहरा पर्व पर रावण के पुतला दहन में डीजे, धुमाल समेत कोई भी साउंड सिस्टम नहीं बजेंगे और न ही समिति को किसी प्रकार की अतिरिक्त सजावट, झांकी निकाले जाने की अनुमति मिलेगी। कार्यक्रम की शासकीय अनुमति लेनी होगी। समिति के 50 सदस्य ही शामिल होंगे। शाम 7 बजे तक पुतला दहन का समय तय किया गया है। गुरुवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में एडीएम सूर्यकिरण तिवारी की अध्यक्षता में दुर्गा पूजा-दशहरा पर्व मनाने शांति समिति की बैठक हुई। पुतला दहन कार्यक्रम की अनुमति प्राप्त समितियां सैनिटाइजर, थर्मल स्क्रीनिंग, आक्सी मीटर एंड हेंडवास व क्यू मैनेजमेंट सिस्टम की व्यवस्था करना होगा। थर्मल स्क्रीनिंग में सामान्य से अधिक शरीर का तापमान होने पर कार्यक्रम में प्रवेश नहीं देने की जिम्मेदारी समिति की होगी। कार्यक्रम स्थल पर अग्निशमन की व्यवस्था रखनी होगी। पुतलों की ऊंचाई 10 फीट से अधिक नहीं होगी। आयोजन किसी बस्ती या रहवासी इलाके में नहीं किया जाएगा, खुले स्थान पर होगा। समिति के सदस्य पुतला दहन स्थल पर आने व जाने के लिए अलग-अलग गेट बनाएंगे। दो आयोजन स्थल की दूरी 500 मीटर होगी, तभी पुतला दहन की शासकीय अनुमति मिलेगी। बैठक में नगर निगम, स्वास्थ्य, पुलिस, राजस्व अफसरों समेत मानवाधिकार बोर्ड, अल्पसंख्यक विभाग, कोरबा चर्चेस एसोसिएशन, छत्तीसगढ़ सिंधी एकादमी, मेमन समाज के प्रमुख पदाधिकारी मौजूद रहे।

नहीं होंगे सांस्कृतिक कार्यक्रम, बाजार, मेला और पंडाल लगाने की भी अनुमति नहीं, लगाए जाएंगे सीसीटीवी कैमरे
बैठक में दुर्गा समितियों के सदस्यों, शहर के लोगों और दुर्गा पंडालों के प्रतिनिधियों को एसडीएम सुनील नायक और नगर निगम के अपर आयुक्त अशोक शर्मा ने कोविड नियमों की जानकारी देते हुए कहा कि अनुमति प्राप्त जगहों पर पुतला दहन में सांस्कृतिक कार्यक्रम, बाजार, मेला, स्वागत, भंडारा, प्रसाद वितरण, पंडाल लगाने की अनुमति नहीं होगी। आयोजन स्थल पर सीसीटीवी कैमरा लगाए जाएंगे, ताकि उनमें से कोई भी व्यक्ति के कोरोना संक्रमित होने पर कांटेक्ट ट्रेसिंग की जा सके।

शर्तों के उल्लंघन पर होगी एफआईआर की कार्रवाई
केन्द्रीय स्वास्थ्य व परिवार कल्याण मंत्रालय के कोविड प्रोटोकॅाल के अंतर्गत जारी एसओपी का भी पालन करना जरूरी होगा। शर्तों के उल्लंघन या किसी प्रकार की अव्यवस्था होने पर समिति जिम्मेदार होगी, जिसके खिलाफ वैधानिक कार्रवाई भी की जाएगी। उल्लंघन पर एपिडेमिक डिसिज एक्ट व विधि अनुकूल नियमानुसार अन्य धाराओं के तहत कठोर कार्रवाई की जाएगी।

कंटेनमेंट जोन के भीतर कार्यक्रम-आयोजन की नहीं होगी अनुमति
कंटेनमेंट जोन में पुतला दहन की अनुमति नहीं दी जाएगी। जहां इसकी अनुमति मिलेगी, वहां भीड़ इकट्‌ठा न हो इसकी जिम्मेदारी आयोजन समिति की होगी। समितियों को ऑनलाइन माध्यमों से आयोजन का प्रसारण करने को कहा गया है। वीडियोग्राफी और एक रजिस्टर भी समिति को रखना होगा, जिसमें दशहरा पर्व, पुतला दहन कार्यक्रम में आने वाले सभी लोगों का नाम-पता और मोबाइल नंबर दर्ज करेंगे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपका कोई भी काम प्लानिंग से करना तथा सकारात्मक सोच आपको नई दिशा प्रदान करेंगे। आध्यात्मिक कार्यों के प्रति भी आपका रुझान रहेगा। युवा वर्ग अपने भविष्य को लेकर गंभीर रहेंगे। दूसरों की अपेक्षा अ...

और पढ़ें