विरोध-प्रदर्शन:छत्तीसगढ़ किसान सभा का आज रेल रोकाे आंदोलन 10 बजे से

कोरबाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

किसान विरोधी काले कानून को वापस लेने की मांग पर संयुक्त किसान मोर्चा आज गेवरा में रेल रोको आंदोलन करेगी। संगठन के देशव्यापी रेल रोको आंदोलन के आह्वान पर अखिल भारतीय किसान सभा से छत्तीसगढ़ किसान सभा ने 18 अक्टूबर को सुबह 10 बजे से गेवरारोड-दीपका सेक्शन के बीच रेल रोकाे आंदोलन का निर्णय लिया है।

इसकी तैयारी छत्तीसगढ़ किसान स‌भा के साथ अन्य संगठनों द्वारा की जा रही है। कोयला खनन प्रभावित गांवों में विस्थापन, पुनर्वास व नौकरी के सवालों को भी इस आंदोलन के दौरान उठाया जाएगा। छत्तीसगढ़ किसान सभा के अध्यक्ष संजय पराते व महासचिव ऋषि गुप्ता ने कहा है कि तीनों कृषि कानूनों की वापसी के साथ ही जब तक मोदी सरकार सी-2 लागत का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य घोषित करने का कानून नहीं बनाती और इस मूल्य पर किसानों द्वारा उत्पादित सभी फसलों की सरकारी खरीदी सुनिश्चित करने की गारंटी नहीं देती, तब तक किसानों का यह शांतिपूर्ण आंदोलन जारी रहेगा।

उधर दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे कोरबा के रेलवे सुरक्षा बल के प्रभारी निरीक्षक कुंदन झा ने रेल रोको आंदोलन के दौरान होने वाली रेलवे की संपत्ति को नुकसान से बचाने के लिए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर बल की तैनाती की मांग की है। उन्होंने रेल रोको आंदोलन में भीड़ व जन आक्रोशित होने पर रेलवे संपत्ति को नुकसान, रेल राजस्व की हानी करने की आशंका से जताई है।

खबरें और भी हैं...