पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

देसी राखियों की मांग:चाइनीज राखी को मात देंगी चावल, गेहूं से सजी राखियां

कोरबाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • महिला समूह ने यू-ट्यूब से सीखकर बनाईं आकर्षक डिजाइन की राखियां, बाजार में मिलेंगी

भाई-बहन के अटूट प्रेम का पर्व रक्षाबंधन पर भाइयों की कलाई पर इस बार चावल, गेहूं, दाल व धान से सजी राखियां सजेगी। महिला समूह ने यू-ट्यूब से सीखकर आकर्षक डिजाइन की बनाई राखियां बाजार में उपलब्ध रहेगी। कलात्मक डिजाइनों से छत्तीसगढ़ की थीम पर बनी राखी चाइनीज राखियों को टक्कर देगी।  इस बार 3 अगस्त को रक्षाबंधन का पर्व मनाया जाएगा। कटघोरा जनपद की जननी महिला संकुल संगठन धंवईपुर की महिलाओं ने कई आकर्षक राखियां बनाई है। इसमें चावल, गेहूं दाल व धान का इस्तेमाल किया है। अब तक समूहों ने 10 हजार राखियां तैयार कर चुकी हैं। जो मार्केट में बिकना शुरू हो गई है। इस राखी का मूल्य 10, 20 व 50 रुपए तय किया गया है। स्थानीय के अलावा बाहर के बाजारों में भी देसी राखी को भेजने की तैयारी कर ली है। एक ओर जहां समूह के सदस्य आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर बनने की राह में कदम बढ़ाया है तो दूसरी ओर लोगों को विदेशी और प्लास्टिक राखियों से मुक्ति मिल जाएगी। छत्तीसगढ़ की थीम पर बनी राखी पर्व पर अपनेपन का अलग ही अहसास कराएगी। समूह की अध्यक्ष देवेश्वरी जायसवाल ने बताया कि समूह की 20-25 महिलाएं मिलकर राखी बनाने का काम कर रही हैं। समूह की महिलाएं रेशम धागा, मौली धागा से राखी बनाई हैं। इसके अतिरिक्त गेहूं, धान, चावल, मूंग मोर पंख, कौड़ी, शंख तथा पैरा से भी देशी राखी बनाया है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें