पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कार्रवाई:कुसमुंडा खदान से चोरी के कबाड़ से भरा पिकअप और आरोपी को सुरक्षा विभाग की टीम ने पकड़ा

कोरबा/कुसमुंडा7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 2 माह से खदान में हो रही है डीजल व कबाड़ की चोरी, बैरियर में तैनात सीआईएसएफ बेपरवाह
Advertisement
Advertisement

एसईसीएल के कुसमुंडा खदान में लगातार तीसरी रात चोर गिरोह घुसा। जो पिकअप में दूसरे दिन भी उपकरण व कबाड़ चोरी करके ले जा रहा था। लेकिन इस बार लगातार डीजल-कबाड़ चोरी करने के साथ ही आतंक मचाने वाले गिरोह पर लगाम कसने के लिए एसईसीएल के सुरक्षा विभाग की टीम जाग गई थी। साथ ही पुलिस की पेट्रोलिंग अीम भी सक्रिय। नतीजतन सुरक्षा विभाग के पेट्रोलिंग टीम ने खदान से कबाड़ लादकर जा रही पिकअप सीजी-12-एस-1847 का पीछा किया और पुलिस को भी इसकी सूचना दी। पिकअप चालक सर्वमंगला नहर की ओर तेज रफ्तार में भगाने लगा। सर्वमंगला नहर किनारे कीचड़ में पिकअप फंसने पर चालक गनेश्वर प्रसाद भागने लगा, जिसे पुलिस ने दौड़ाकर पकड़ लिया। चालक गनेश्वर प्रसाद व उसके साथियों के खिलाफ जुर्म दर्ज कर लिया गया है।

संरक्षण मिलने से चोर गिरोह के हौसले बढ़े
कुसमुंडा खदान में चोरों के हौसले इस कदर बुलंद हो गए कि मंगलवार-बुधवार की रात कर्मचारियों के चोरी का विरोध करने पर उनके वाहन जला दिए। वहीं बुधवार-गुरुवार की रात वर्कशॉप में ताला तोड़कर लाखों के उपकरणों की चोरी की गई। वहीं इसके बाद गुरुवार-शुक्रवार की रात उसी वर्कशॉप-1 में फिर चोरों ने पहुंचकर उपकरण-कबाड़ चोरी की। जिसमें लगभग एक से डेढ़ टन पाइप, एंगल व स्क्रेप ले जाया जा रहा था। जिसकी रिपोर्ट खदान के सुरक्षा प्रभारी सरजू साय ने लिखाई है।

सीआईएसएफ की सक्रियता पर उठे सवाल
खदान की सुरक्षा के लिए भीतर जहां एसईसीएल के सुरक्षा विभाग के साथ निजी सुरक्षा एजेंसी व नगर सैनिक तैनात है। वहीं बाहरी सुरक्षा की जिम्मेदारी सीआईएसएफ की है। जिसके जवान खदान में घुसने वाले सभी मार्गों पर बने बैरियर (चेकपोस्ट) में तैनात रहते हैं। ऐसे में चोर गिरोह के चार पहिया वाहनों में घुसने और डीजल-कबाड़ भरकर खुलेआम ले जाने पर सीआईएसएफ की सक्रियता पर सवाल उठने लगे हैं।

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement