पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सिस्टम ही डाउन:रोज 2 हजार किट की जरूरत, मिले सिर्फ 3 हजार, चंद घंटे में सब खत्म

बैकुंठपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिला अस्पताल में जांच कराने भीड़ ने सोशल डिस्टेंस तोड़ा। - Dainik Bhaskar
जिला अस्पताल में जांच कराने भीड़ ने सोशल डिस्टेंस तोड़ा।
  • कोरिया में एंटीजन जांच किट खत्म, बिना जांच कराए लौट रहे संदिग्ध

कोरोना इलाज में अब ऑक्सीजन के बाद जांच किट की कमी हो गई है। शनिवार को किट नहीं रहने से शहर से लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों तक जांच प्रभावित रही। स्वास्थ्य विभाग को रोज 2 हजार किट की जरूरत है, लेकिन दो दिन जिला मुख्यालय में जांच बंद होने के बाद शुक्रवार को रायपुर से सिर्फ 3 हजार किट जिले के लिए उपलब्ध कराए गए हैं। इससे हर ब्लाॅक को स्वास्थ्य विभाग से सिर्फ 4-4 सौ किट ही मिले हैं। देर शाम तक किट नहीं मिलने से रविवार को जिले में ज्यादातर केंद्रो पर कोरोना की जांच नहीं हो सकेगी।

बता दें कि जिले के अधिकतर सेंटरों में रेपिड एंटीजन टेस्ट किट खत्म हो गई है, शनिवार काे जिला अस्पताल समेत सीएचसी में पहले पहर तक कोरोना की जांच की जा रही थी, लेकिन दोपहर को किट खत्म होते ही लोगों को‌ बाद में अाने के लिए कहकर वापस भेज दिया गया। अफसोसजनक पहलू ये है कि जिसने जांच नहीं करवाई है, वह खुद काे संक्रमित न मानकर पूरे शहर में घूमता रहेगा। इतना ही नहीं खुद की तबीयत बिगड़ेगी और परिवार समेत अन्य लोगों में भी संक्रमण फैलाएगा।

अब कब मिलेगी खेप नहीं बता पा रहे अफसर

सीएमएचओ डॉ. रामेश्वर शर्मा ने बताया कि एंटीजन किट खत्म हो गया है, जिसकी आपूर्ति के लिए मांग की है। बड़ी परेशानी की बात यह है कि किट कब तक मिलेगा, इसकी जानकारी अधिकारी भी नहीं दे पा रहे हैं। जिले में रोज 15 सौ से दो हजार मरीजों की जांच रेपिड एंटीजन टेस्ट के माध्यम से की जा रही है, लेकिन किट खत्म होने से अब हजार मरीजों की जांच भी नहीं हो पा रही है। गुरूवार, शुक्रवार को जिला अस्पताल समेत यहां के आसपास के पीएचसी में जांच बंद रही।

खबरें और भी हैं...