पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

ट्रिपल मर्डर:पत्नी व दो वर्षीय बेटे की घर में रात में गला दबाकर हत्या, शाम को पति का शव तालाब में पड़ा मिला

लोरमी/ मुंगेली4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • फास्टरपुर थाने के ग्राम लगरा की घटना, मृतकों के परिजन ने हत्या का कारण पता होने से किया इनकार

फास्टरपुर थाना क्षेत्र के लगरा गांव निवासी मां और 2 वर्षीय बेटे की घर के कमरे में हत्या कर दी गई। उनके नाक और मुंह से खून निकल रहा था और गले में दबाने के निशान मिले हैं। जबकि पति की लाश गांव के जलाशय नुमा तालाब में मिली है। परिजन ने घटना का कारण पता होने से इंकार किया है। जबकि पुलिस पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है। ग्रामीणों में ऐसी चर्चा है कि पति ने पहले पत्नी व बेटे की हत्या की होगी इसके बाद आत्मग्लानि होने पर खुद भी तालाब में कूदकर जान दे दी। फिलहाल पुलिस विभिन्न एंगल से जांच में जुटी हैं। फास्टरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम लगरा निवासी बसंत चंद्राकर 32 वर्ष के परिवार में माता-पिता, पत्नी चंद्रलता 30 वर्ष और 8 बच्चे हैं। इनमें 7 लड़कियां और एक लड़का था। बसंत के पिता इतवारी ने बताया कि सोमवार रात खाना खाकर बसंत, चंद्रलता बेटे को लेकर अपने कमरे में सोने चला गया था। जबकि मैं सभी लड़कियों और पत्नी के साथ दूसरे कमरे में सोया था। सुबह जब बसंत के कमरे का देर तक दरवाजा नहीं खुला तो आवाज दी गई, काफी देर आवाज देने के बाद भी जवाब नहीं मिला। तो एक लड़के को दूसरी तरफ से भेजकर कमरे का दरवाजा खुलवाया। तो कमरे में लता और उसका दो वर्षीय बेटा नानू जमीन पर पड़े थे। उनके नाक, मुंह से खून निकला था और गले में दबाने के निशान मौजूद थे।

कमरे में जमीन पर पड़े मिले शव, पत्नी और बेटे के नाक - मुंह से खून निकल रहा था, गले पर दबाने के मिले निशान- दोनों की किसने की हत्या, गुत्थी सुलझाने में जुटी पुलिस...
पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार

बताया जा रहा है कि पुलिस घटना को लेकर पुलिस पड़ताल कर रही थी। इसी दौरान पता चला कि सरकारी स्कूल के पास बांध नुमा तलाब में बसंत का शव मिला है। शव तलाब से निकलवा कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। उसका पोस्टमार्टम बुधवार को होगा। दोनों के पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर ही पुलिस घटना के कारणों को स्पष्ट कर सकेगी। पुलिस विभिन्न एंगल जांच कर रही है। इधर गांव में चर्चा है आत्मग्लानि का कारण ही तो बसंत ने जान नहीं दे दी।

परिवार में 7 बहनों में इकलौता भाई था नानू
बताया जा रहा है कि बसंत के 8 बच्चे थे। इनमें 7 लड़कियां और एक बेटा नानू 2 वर्ष का था। नानू सबसे छोटा था। इसके चलते ही दंपती उसे रात में उसे अपने साथ ही कमरे में सुलाते थे। जबकि सभी लड़कियां दादा और दादी के साथ उनके कमरे में सोतीं थी। घटना की रात सोमवार को भी लड़कियां दादी के साथ ही कमरे में सो रहीं थी। जबकि नानू दूसरे कमरे में साेया था।

एसपी गांव पहुंचे, कमरे का किया निरीक्षण
घटना की सूचना पर मंगलवार सुबह एसपी अरविंद कुजूर, एएसपी कमलेश्वर चंदेल, एसडीओपी टीआर पटेल मौके पर पहुंचे। घटना स्थल का निरीक्षण कर परिजन से पूछताछ की। इसके बाद शव का पोस्टमार्टम कर परिजनों को सौंप दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद मौत का कारण पता चलेगा।

परिजन ने दंपती के बीच विवाद से किया इंकार
बताया जा रहा है कि बसंत के पास पैतृक संपत्ति के रूप में थोड़ी सी खेती है। इसके चलते वह परिवार के भरण पोषण के लिए दूसरे राज्यों में जाकर मजदूरी करता था। अभी यह पता नहीं चला है कि यह हत्या किस कारण से की गई है। घरवालों से पूछने पर भी दंपती के बीच किसी तरह की लड़ाई झगड़े की कोई बात सामने नहीं आई है।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज उन्नति से संबंधित शुभ समाचार की प्राप्ति होगी। धार्मिक और आध्यात्मिक कार्यों में भी कुछ समय व्यतीत होगा। किसी विशेष समाज सुधारक का सानिध्य आपके अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न करेगा। बच्चे त...

और पढ़ें