सैंडलकांड वाली महिला नेत्री पर केस:पति के खिलाफ भी दर्ज हुआ मामला; सैंडल लेकर IAS अफसर को मारने दौड़ीं थीं जिपं सदस्य

मुंगेली9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले में सैंडल लेकर IAS अफसर को मारने दौड़ने वाले महिला नेत्री लैला ननकू भिखारी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है। उनके पति ननकू भिखारी के खिलाफ भी पुलिस ने केस दर्ज किया है। घटना का वीडियो वायरल होने के बाद से ही जिलेभर के अधिकारियों ने जिला पंचायत सदस्य के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ था। जिसके बाद यह कार्रवाई की गई है। दोनों के खिलाफ जरहागांव थाना में मामला दर्ज किया गया है। दोनों के खिलाफ धारा 186, 353 और 34 के तहत केस दर्ज किया गया है।

दरअसल, मामला 23 दिसंबर का है। जब जिला पंचायत सदस्य लैला ननकू भिखारी जिला पंचायत के सीईओ और आईएएस अफसर रोहित व्यास को सैंडल लेकर मारने के लिए दौड़ीं थीं। उन्होंने अफसर पर जातिगत टिप्पणी करने का आरोप लगाया था। घटना के बाद दोनों ने एक दूसरे खिलाफ पुलिस से शिकायत की थी।

शुक्रवार को जिलेभर के अधिकारियों ने कलेक्टर और एसपी से शिकायत की थी।
शुक्रवार को जिलेभर के अधिकारियों ने कलेक्टर और एसपी से शिकायत की थी।

वहीं पूरी घटना को लेकर आईएएस एसोसिएशन ने भी नाराजगी जाहिर की थी। शुक्रवार को जिलेभर के अधिकारियों ने महिला नेत्री के खिलाफ एसपी और कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा था। अधिकारियों ने साफ शब्दों में कह दिया था यदि कार्रवाई नहीं हुई तो वे सोमवार से आंदोलन पर रहेंगे। जिला पंचायत सदस्य ने इसे लेकर मुख्यमंत्री को भी पत्र लिखा था। मामला दर्ज होने के बाद अब कलेक्टर ने अधिकारियों से अपील की है कि वह आंदोलन नहीं करें।

जरहागांव थाने में दोनों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।
जरहागांव थाने में दोनों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है।

ये है मामला

गुरुवार को मुंगेली जिला पंचायत सीईओ रोहित व्यास के साथ महिला जिला पंचायत सदस्य लैला ननकू भिखारी का विवाद हो गया था। इस दौरान लैला IAS अफसर रोहित व्यास को सैंडल से मारने के लिए दौड़ पड़ी थी। जिसका वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल हुआ था। पूरे मामले पर दोनों पक्ष ने पुलिस में शिकायत कर दी थी।

दरअसल, जिला पंचायत सदस्य लैला ननकू को क्षेत्र के विकास कार्य के लिए कुछ राशि स्वीकृत करवानी थी। लैला का दावा है कि अफसर जिला पंचायत सीईओ रोहित व्यास उसे अक्सर टाल दिया करते थे। प्रभारी मंत्री से मिलने को कह दिया करते थे। गुरुवार को जब मिलने पहुंची थी, तो अफसर ने बहस की। कहा तुम इस जाति की हो इस वजह से तुम लोग नहीं सुधर सकते। इतना सुनकर लैला ने सैंडल उतारकर हाथ में ले लिया। अफसर ने जब दूर हटकर पुलिस को फोन लगाने की बात कही तो महिला नेत्री ने चुनौती दी कि बुला लें जिसे बुलाना है।

खबरें और भी हैं...