जेल से भाग गया आरोपी:रेप के आरोप में 4 महीने से था बंद, मौका मिलते ही दीवार फांदकर भागा; जेल प्रहरी निलंबित

मुंगेली8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

छत्तीसगढ़ के मुंगेली जिले की जेल से रेप का आरोपी भाग निकला है। 4 महीने से बंद आरोपी शुक्रवार शाम को दीवार फांदकर भाग निकला है। प्रबंधन को इस बात का पता तब चला,जब दूसरे कैदियों ने इसकी जानकारी दी। इसके बाद उसकी तलाश की गई, मगर उसका कुछ पता नहीं चल सका है।

प्रबंधन ने फरार आरोपी के खिलाफ शनिवार को कोतवाली में केस दर्ज कराया है। वहीं ड्यूटी पर तैनात जेल प्रहरी मंगतराम नेताम को निलंबित कर दिया गया है। आरोपी के भागने के बाद केंद्रीय जेल अधीक्षक एस एस तिग्गा ने जेल का दौरा भी किया है।

बताया गया है कि जिले के निवासखार निवासी राजेश उइके मुंगेली उप जेल में पिछले चार महीने से बंद था। उसे रेप के मामले में गिरफ्तार किया गया था। अभी उसका मामला कोर्ट में चल रहा है। इस बीच शुक्रवार को दोपहार के वक्त राजेश उइके जेल की दीवार फांदकर भाग गया।

लंच करने गए थे जेल अधीक्षक

घटना को लेकर जेल अधीक्षक नंदकुमार शर्मा ने बताया कि वह 3 बजे खाना खाने के लिए घर गए हुए थे। तभी उन्हें फोन पर राजेश के भागने की सूचना मिली थी। सूचना मिलने के बाद शाम तक उसका पता लगाया गया। मगर उसका कुछ पता नहीं चल सका। इस पर शनिवार को उसके खिलाफ कोतवाली में केस दर्ज कराया गया है।

केंद्रीय जेल अधीक्षक एस एस तिग्गा ने शनिवार को जेल का दौरा किया है।
केंद्रीय जेल अधीक्षक एस एस तिग्गा ने शनिवार को जेल का दौरा किया है।

इस मामले की जानकारी सीनियर अधिकारियों को लगी तो केंद्रीय जेल अधीक्षक एस एस तिग्गा ने शनिवार को जेल का दौरा किया है। उन्होंने बताया कि जेल प्रहरी की ड्यूटी उस समय वहीं लगी थी, जहां से कैदी भागा है। इस मामले में जेल प्रहरी की लापरवाही उजागर हुई है। जिसके बाद उसे निलंबित किया गया है। उन्होंने कहा घटना के बाद जांच के लिए मैंने जेल का निरीक्षण किया है। हम अभी जेल के अंदर और क्या बेहतर हो सकता है, जिससे इस तरह की घटनाएं फिर से न हो, इसके लिए प्रयास कर रहे हैं।

2019 में 4 कैदी भागे थे

इस जेल में कैदियों के भागने का यह कोई पहला मामला नहीं है। इससे पहले 2019 में इस जेल से 4 कैदी भाग गए थे। हैरानी की बात यह कि इन चारों में से एक कैदी अब तक नहीं पकड़ा जा सका है। पता चला है कि जेल की दीवारों में फेंसिंग नहीं लगी है। इस वजह से भी कैदी भागने में सफल रहा है। फिलहाल प्रबंधन उसका पता लगा रही है।