पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

फैल रहा कोरोना:हाईकोर्ट, पुलिस कर्मी और डॉक्टर सहित जिले में 196 नए संक्रमित, तीन पीड़ितों की मौत हुई

बिलासपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 6749 हो गए कुल केस, 21 दिन में मिले 4971 मरीज, 3984 एक्टिव

जिले में कोरोना से मौतों के आंकड़े बढ़ते ही जा रहे हैं। हर दिन मरीजों की जानें जा रही हैं। सोमवार को तीन पीड़ितों ने अलग-अलग अस्पतालों में दम तोड़ दिया। इन्हें मिलाकर अब मृतकों की संख्या 127 पहुंच गई है। कतियापारा जूना बिलासपुर में रहने वाले 50 साल के पुरुष की सिम्स अस्पताल में मौत हो गई। पेंडारी के रहने वाले 75 वर्षीय बुजुर्ग का इलाज कोविड अस्‍पताल में चल रहा था। सोमवार को उन्होंने अंतिम सांस ली। शांति नगर में रहने वाले 89 साल के बुजुर्ग ने आरबी अस्पताल में दम तोड़ा। इसके अलावा कोरबा जिले के रहने वाले 60 साल के मरीज की कोविड अस्‍पताल में मौत हो गई। सोमवार को चार मरीजों ने दम तोड़ा है लेकिन इनमें जिले के तीन पीड़ित हैं। इधर कोरोना का कहर जारी है। मरीजों की रफ्तार नहीं रुक रही है। सोमवार को 196 नए मरीज मिले हैं। इन्हें मिलाकर अब कुल मरीजों की संख्या 6749 हो गई है। सिर्फ सितंबर के 21 दिनों में 4971 मरीज मिले हैं। सोमवार को पुलिसकर्मी, हाईकोर्ट कर्मचारी, डॉक्टर सहित अन्य सरकारी कर्मचारी कोरोना की चपेट में आए हैं। इधर थोड़ी राहत की खबर ये है कि जिले में पहली बार एक दिन में सबसे ज्यादा 185 मरीजों ने एक साथ कोरोना को मात दी और डिस्चार्ज किए गए। अब ठीक होने वालों की संख्या 2638 पहुंच गई है। वहीं 3984 मरीज एक्टिव हैं जो कोरोना से जंग लड़ रहे हैं।

रतनपुर में 10 संक्रमित मिले
रतनपुर में एक साथ 10 मरीजों की पहचान हुई है। इससे पहले भी लगातार मरीज मिले हैं। सोमवार को 40,33, 30, 30, 30, 31, 57, 28 54 और 36 वर्षीय मरीज मिले हैं। इसके अलावा कोटा में 18, 55, 52, 48, 36 और 6 साल के मरीज मिले हैं।

हाईकोर्ट में मिले छह मरीज
हाईकोर्ट में लगातार कोरोना मरीज मिल रहे हैं। सोमवार को फिर छह लोग कोविड की चपेट में आए हैं। नए मरीजों की उम्र 39, 49, 31, 52 और 28 वर्ष है। अब इनके संपर्क में रहने वाले संदेहियों की जांच होगी।

सरकंडा और आरके नगर में 29 से ज्यादा मरीज
सरकंडा और आरके नगर में बड़ी संख्या में मरीजों की पहचान हुई है। दोनों जगहों में 29 से ज्यादा लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उनकी उम्र 29, 32, 19, 38, 45, 34, 14, 54, 45, 37, 33, 38, 38, 43, 34, 32 सहित अन्य है। मरीजों के संपर्क में रहे संदेहियों की अब जांच होगी।

सिटी कोतवाली थाने में मिले पॉजिटिव
पुलिस कर्मी लगातार कोरोना पॉजिटिव हो रहे हैं। सोमवार को सिटी कोतवाली थाने में संक्रमित मरीज मिले हैं। 60 और 35 वर्ष के दो लोग कोरोना की चपेट में आए हैं। इसके अलावा रेलवे कालोनी में रहने वाले 30 वर्षीय डॉक्टर सहित दो अन्य डॉक्टर भी संक्रमित हुए हैं।

सिटी कोतवाली थाने में मिले पॉजिटिव
पुलिस कर्मी लगातार कोरोना पॉजिटिव हो रहे हैं। सोमवार को सिटी कोतवाली थाने में संक्रमित मरीज मिले हैं। 60 और 35 वर्ष के दो लोग कोरोना की चपेट में आए हैं। इसके अलावा रेलवे कालोनी में रहने वाले 30 वर्षीय डॉक्टर सहित दो अन्य डॉक्टर भी संक्रमित हुए हैं।

नए संक्रमित मिले मरीजों के इलाके
विनोवा नगर, लिंक रोड, परिजात कालोनी, गाेंडपारा, सीपत चौक, अर्चना विहार, नेचर सिटी, अश्मा सिटी, जरहाभाठा, हेमू नगर, उसलापुर, तिफरा, वैशाली नगर, रेलवे कालोनी, कस्तूरबा नगर, क्रांति नगर, राजीव विहार, दयालबंद, सागर होम्स, सिरगिट्‌टी, संगम कालोनी, रामा ग्रीन सिटी, अशोक नगर, हाईकोर्ट, होटल विनायक पैलेश, जूना बिलासपुर, सकरी बटालियन, 27 खाेली सहित अन्य इलाकों में मिले हैं।

रेलवे हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कोरोना संक्रमित महिला कोविड अस्पताल में थी भर्ती, परिजनों के हंगामे के बाद सुरक्षित घर लौट पाईं
रेलवे कोविड अस्पताल से गायब हुई महिला मिल गई है। सोमवार को आखिरकार परिजनों ने उन्हें ढूंढ लिया। महिला शहर के कोविड अस्पताल में भर्ती थीं। 16 सितंबर को रेलवे अस्‍पताल प्रबंधन ने महिला को कोविड अस्पताल रेफर कर दिया था। परिजनों को इसकी जानकारी नहीं दी गई थी। रविवार को मरीज के परिजनों को पता चला कि महिला रेलवे अस्पताल से गायब हो गई तो उन्होंने तारबहार थाने को पत्र लिखकर विद्या सागर लोको पायलट कालोनी में रहने वाली 65 वर्षीय मगरा देवी को सुरक्षित घर पहुंचाने कहा था। साथ ही खुद भी तलाश में जुट गए थे। सोमवार की सुबह परिजन बड़ी संख्या में लोको पायलेट को लेकर रेलवे अस्पताल पहुंचे और अस्पताल प्रबंधन पर दबाव बनाया कि आखिर उनकी सास कहां गई हैं। घंटों बहसबाजी के बाद पता चला कि 65 वर्षीय मगरा देवी को 16 सितंबर को कोविड अस्पताल रेफर कर दिया गया था तब से उनका इलाज यहीं चल रहा है। इसके बाद परिजन कोविड अस्‍पताल गए और महिला को डिस्चार्ज कराने के बाद घर लेकर गए। बता दें कि रविवार को रश्मि सागर ने तारबाहर थाना प्रभारी को चिट्ठी लिख कर बताया था कि 8 सितंबर को वह अपनी सास को इलाज के लिए रेलवे अस्पताल लेकर गई थी। वहां के डॉक्टरों ने सुबह 9 बजे कोविड जांच की और बताया कि वे कोरोना पॉजिटिव हैं। इसके बाद मेरी सास को रेलवे कोविड अस्पताल में भर्ती कर दिया गया था। 10 सितंबर को रेलवे अस्पताल से फोन आया और कहा गया कि उनकी मां खाना नहीं खा रही हैं। इसलिए आप उनको दाल, पानी और जूस प्रतिदिन भेज दिया कीजिए। इसके बाद से मैं रोज दाल पानी और जूस पहुंचाती थी। हालचाल पूछती थी तो नहीं बताया जाता था कि वह ठीक हैं या नहीं। मैं रविवार को दाल, पानी और जूस लेकर रेलवे अस्पताल गई। सामान को रखा और सास का हालचाल पूछा तो मुझे बताया गया कि 65 वर्षीय मगरा देवी को 16 सितंबर को अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया। लेकिन डिस्चार्ज करने के बाद हम लोगों को कोई जानकारी नहीं दी गई।

हमारे अस्पताल से महिला को डिस्चार्ज किया था
दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के सीनियर डीसीएम पुलकित सिंघल का कहना है कि हमारे अस्पताल से महिला को 108 एंबुलेंस से डिस्चार्ज कर दिया था। इसके आगे की कार्यवाही जिला प्रशासन की है। इधर सीएमएचओ डॉक्टर प्रमोद महाजन का कहना है कि 108 के कर्मचारी को कन्फ्यूजन हो गया था, इसके कारण यह गलती हुई है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- चल रहा कोई पुराना विवाद आज आपसी सूझबूझ से हल हो जाएगा। जिससे रिश्ते दोबारा मधुर हो जाएंगे। अपनी पिछली गलतियों से सीख लेकर वर्तमान को सुधारने हेतु मनन करें और अपनी योजनाओं को क्रियान्वित करें।...

और पढ़ें