तैयारी पूरी:कानन में जंगल सफारी से आएंगे 3 चौसिंगा

बिलासपुर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कानन पेंडारी चिड़ियाघर में तीन नए मेहमान आने वाले हैं। जंगल सफारी रायपुर ने तीन चौसिंगा भेजने की पूरी तैयारी कर ली है। इसी महीने कानन पेंडारी में एक नर और दो मादा चौसिंगा आएंगे। एनिमल एक्सचेंज कार्यक्रम के तहत तीन वन्यजीवों के बदले में जंगल सफारी को कानन प्रबंधन छह कोटरी और दो लोमड़ी दे रहा है।

चूंकि कानन में लोमड़ी और कोटरी की संख्या अधिक है इसलिए प्रबंधन ने इन्हें भेजने का फैसला लिया है। तीन चौसिंगा आने के बाद कानन में इनकी संख्या 15 हो जाएगी। वर्तमान में 12 चौसिंगा हैं। चिड़ियाघर में 12 लोमड़ी हैं। एक नर और एक मादा लोमड़ी के जाने के बाद 10 लोमड़ी बचेंगे। इसी तरह कोटरी की बात करें तो इनकी संख्या 19 है। तीन मादा और इतने ही नर के जंगल सफारी जाने के बाद चिड़ियाघर में 13 कोटरी बचेंगे। अधीक्षक संजय लूथर का कहना है कि एनिमल एक्सचेंज कार्यक्रम के तहत वन्यजीवों का आदान-प्रदान किया जा रहा है। हमारे पास चौसिंगा की कमी थी। जंगल सफारी से आने के बाद कमी कुछ हद तक दूर हो जाएगी। इधर चीतलों की संख्या चिड़ियाघर में जरूरत से ज्यादा है। इन्हें जंगल शिफ्ट करने के लिए सीजेडए से अनुमति मिले तीन वर्ष हो चुके हैं।

खबरें और भी हैं...