पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अपराध:पांच साल में हत्या और दुष्कर्म जैसी संगीन वारदातों में 328 नाबालिगों पर मुकदमे

बिलासपुरएक महीने पहलेलेखक: चंद्रकुमार दुबे
  • कॉपी लिंक
  • प्रोफेशनल बदमाशों की तरह कर रहे वारदात, महंगे शौक से अपराध की दुनिया की ओर बढ़ रहे किशोर, क्राइम का ट्रेंड बदल दिया नाबालिगों ने

बिलासपुर जिले में नाबालिगों के कदम अपराध की दुनिया में तेजी से बढ़ रहे हैं। लगातार वारदात कर रहे नाबालिगों ने अब जिले के क्राइम ट्रेंड को बदलकर रख दिया है। हत्या, चोरी, डकैती, बलात्कार, जानलेवा हमला, अपहरण हो या मादक पदार्थों की तस्करी, अपराध चाहे जो हो वारदात के बाद सबसे पहले पुलिस नाबालिगों को शक की निगाहों से देखने लगी है। शक होना भी लाजमी है, क्योंकि नाबालिग उम्र में भले ही छोटे हैं, लेकिन उन्होंने अपराध प्रोफेशनल क्रिमिनल्स की तरह किए हैं। सिरगिट्टी में एक माह पहले नाबालिग ने अपने साथी के साथ मिलकर युवक की हत्या कर दी। इसी तरह उसलापुर डकैती व गोलीकांड में एक नाबालिग का हाथ रहा। भास्कर ने पुलिस थानों और किशोर न्याय बोर्ड की फाइलों में दर्ज पिछले 5 साल के आकंड़ों को खंगाला। हालात चौंकाने वाले सामने आए हैं। पिछले 5 सालों में जिले की विभिन्न घटनाओं में 328 नाबालिग शामिल रहे। हत्या जैसे संगीन मामलों में 11 आरोपी शामिल हैं।

मौज-मस्ती की आदत से बन रहे अपराधी
किशोर न्याय बोर्ड और पुलिस ने जब इन मामलों में बालकों से बातचीत की तो यह सामने आया है कि वे पैसों के लालच, महंगे शौक पूरे करने और मौज-मस्ती के लिए बड़ी वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। पकड़े गए कई नाबालिगों की गर्लफ्रेंड भी थी, जिनके चलते उनके खर्च बहुत ज्यादा बढ़े हुए थे। कुछ मामलों में यह सामने आया है कि पहले माता-पिता ने उन्हें महंगे शौक करवाकर लत डलवाई, जो बाद में परेशानी बन गई। वहीं, कई मामलों में माता-पिता का बालकों की दिनचर्या पर ध्यान नहीं देना और उनके साथ लगातार बातचीत नहीं करना भी एक वजह बनकर सामने आया है।

इन तीन उदाहरणों से समझें नाबालिग किस तरह कर रहे हैं अपराध
हत्या : मामूली विवाद पर अपहरण की नाबालिग की हत्या: 22 सितंबर 2019 को सीपत मटियारी निवासी जय किशन की 10 लोगों ने मिलकर अपहरण कर लिया और चाकू गोदकर उसकी हत्या करदी। आरोपियों ने एक नाबालिग भी शामिल था। उसी ने ही चाकू चलाया था।
गैंगरेप: किडनैप कर गैंगरेप: तोरवा में 8 दिसंबर 2020 को किशोरी घर के बाहर थी। इसी बीच उसका दोस्त घुमाकर लाने की बात कहा और उसे रेलवे कॉलोनी के पीछे खंडहर में ले गया। यहां पहले से उसके तीन साथी थी। उन्होंने मिलकर दुष्कर्म किया। उसका अभद्र वीडियो भी बनाया और किसी को बताने पर सार्वजनिक करने की धमकी दी।
चोरी: अंतरराज्यीय चोर गिरोह में शामिल था नाबालिग : 22 जनवरी 2019 को शहर के एक बड़े होटल के शादी-समारोह में 10 लाख के हीरे का जेवरात चुराने वाला अंतरराज्यीय चोर गिरोह के तीन बदमाशों को सिविल लाइन पुलिस ने गिरफ्तार किया। नाबालिग ने ही इसे चुराया था। पुलिस इन्हें मध्यप्रदेश से पकड़कर लाई। पूछताछ में उसने 12 अन्य वारदातों में शामिल होना कबूल किया।

किशोर न्याय बोर्ड ऐसे करता है कार्रवाई : किशोर न्याय बोर्ड नाबालिग बालक, बालिकाओं पर पहले किशोर न्याय अधिनियम-2000 के प्रावधान 15 व संगत नियम 2011 के अंतर्गत कार्रवाई करता था। इसकी धारा 14 के तहत कानून का उल्लंघन करने वाले बालक-बालिकाओं के बारे में बोर्ड जांच करती है।

प्रदेश में बिलासपुर का दूसरा स्थान : जिले के विभिन्न थानों में वर्ष 2016-17 से लेकर वर्ष 2020-21 पिछले 5 साल में कुल 328 मामले सामने आए। प्रदेश में रायपुर जिला पहले स्थान पर हैं, जहां 2 हजार 136 प्रकरण दर्ज किए गए, जबकि पूरे प्रदेश में इन 5 सालों में नाबालिगों के खिलाफ कुल 22138 एफआईआर किए गए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें