पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लापरवाही:5 करोड़ का बंधवा तालाब पिकनिक स्पॉट नहीं बना, 5 करोड़ फिर खर्च होंगे

बिलासपुरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • गंदा पानी रोकने 2 करोड़ फूंके, अब नाले के पानी से भरने 50 लाख खर्च करेंगे

सूर्यकान्त चतुर्वेदी | 21 एकड़ क्षेत्र में फैले हेमूनगर के बंधवापारा तालाब को पिकनिक स्पॉट बनाने 5 करोड़ रुपए खर्च कर दिए गए पर जनता को इसका पूरा लाभ नहीं मिला। गलत प्लानिंग, पैसे की बर्बादी और मेंटेनेंस के अभाव में न तो तालाब में पानी भरने का सपना पूरा हुआ और न ही उसके किनारे लोगों को शाम का वक्त बिताने, पार्टी करने, खेलकूद, मनोरंजन और व्यंजन का लुत्फ उठाने का मौका मिला। 8 साल पहले लोकार्पण के बाद कुछ महीने तक जरूर लोगों को यहां सैर, सपाटे का आनंद मिला, परंतु बाद में मेंटेनेंस के अभाव में तालाब के सौंदर्यीकरण के लिए लगाए महंगे डेकोरेटिव लाइट, फाउंटेनन, वुडन ब्रिज, रेलिंग, टाइल्स सब टूट फूट कर बर्बाद हो गए। जिस तालाब में अभी डेढ़- दो फुट पानी बचा है, उसमें क्रूस रेस्टोरेंट तैराने के लिए 5-7 फुट पानी भरने के लिए वापस नाले के पानी का सहारा लिया जा रहा है। तालाब में गंदे पानी की निकासी रोकने के लिए 2008 में दो करोड़ रुपए खर्च किए गए। जो तालाब गंदे पानी से भरता था, वह नाले की निकासी बंद कराने के बाद दोबारा नहीं भर पाया। अब वापस नाले के पानी से तालाब भरने की योजना बनाई गई है।

भूल सुधार पर 50 लाख खर्च होंगे
तालाब में क्रूज को तैराने के लिए उसमें 5-7 फुट पानी भरना पड़ेगा। इसके लिए उसी नाले के पानी का सहारा लिया जाएगा, जिसे बाहर निकालने के लिए साल 2008 में 8 फुट गहरे तथा 700 मीटर लंबे कवर्ड नाले का निर्माण कराया गया था। बंधवापारा तालाब में रेलवे कालोनियों का गंदा पानी वर्षों से भरता रहा था। इसके आउटलेट का पानी अरपा में चला जाता था। तालाब में निकासी बंद कराने के बाद अब रेलवे का पूरा गंदा पानी अरपा को प्रदूषित कर रहा। ईई सुरेश बरुआ ने बताया कि नाले को डायवर्ट कर उसका पानी साफ करने के लिए सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट लगाया जाएगा। नाले का पानी एसटीपी में भरेगा तथा उसे ठेकेदार केमिकल के जरिए स्वच्छ कर तालाब को भरने में इस्तेमाल करेगा। इस रीति से प्रतिदिन एक लाख लीटर पानी की सफाई की जाएगी। एसटीपी के निर्माण पर 40 लाख रुपए खर्च होंगे। इसके अतिरिक्त फाउंटेन के जरिए पानी की सफाई पर 7 लाख रुपए खर्च होंगे।

तालाब 10 साल के ठेके पर : जल संग्रहण के लिए अमृत मिशन योजना के अंतर्गत तालाब को नए सिरे से संंवारने के लिए 2.32 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इसके संचालन और संधारण का ठेका 10 वर्षों के लिए होटल ईशिका ग्रुप को दिया है। ठेकेदार को क्रूज रेस्टोरेंट के संचालन से लेकर खेलकूद, मनोरंजन और सौंदर्यीकरण के कार्यों पर 2.64 करोड़ रुपए खर्च करना है। बदले में वह नगर निगम को मात्र 2 लाख रुपए सालाना किराया देगा और जनता से प्रवेश शुल्क वसूल करेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें