पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

मानसून मेहरबान:बिलासपुर में 24 घंटे में 8 सेमी बारिश, 10 वर्षों में इतनी वर्षा तीसरी बार

बिलासपुर24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अरपा में भी बहाव तेज। शनिचरी रपटा पर पानी का नजारा देखते लोग।
  • दिन का तापमान सामान्य से दो डिग्री ज्यादा 33.8 डिग्री दर्ज, आज गरज चमक के साथ छींटे पड़ने की संभावना
Advertisement
Advertisement

सुनील शर्मा | जून के बाद जुलाई में भी बिलासपुर में बारिश के सीजन में मौसम का एक और रिकॉर्ड बन गया। जून में जहां इस बार 10 वर्षों में दूसरी बार अधिक बारिश बिलासपुर में हुई, वहीं जुलाई में सोमवार की रात 82.4 मिलीमीटर बारिश हुई। इतनी अधिक बारिश 10 वर्षों में केवल 3 बार हुई है। इससे पहले 22 जुलाई 2014 को 89.6 मिमी तो 6 जुलाई 2012 को 103.2 मिमी बारिश हुई थी। मौसम विशेषज्ञ के मुताबिक ऐसा सीबी क्लाउड की वजह से हुआ है। 3 किमी तक ऊंचाई पर रहने वाले सीबी क्लाउड के कारण ही बिलासपुर में कुछ घंटे में ही 8 सेंटीमीटर से अधिक बारिश हो गई। हालांकि लैलूंगा में 87 मिमी तो कोरबा जिले के पाली में 81 मिमी वर्षा हुई।
सोमवार के लिए मौसम विभाग ने बिलासपुर में बारिश की चेतावनी जारी करते हुए बताया था कि मानसून द्रोणिका व चक्रीय चक्रवात के असर से पानी बरसेगा। प्रदेश के मध्य भाग में मध्यम से भारी वर्षा होने की ज्यादा संभावना बताई थी। पर बिलासपुर का मौसम बारिश के दिनों जैसा नहीं था। अधिकतम तापमान 33.8 डिग्री दर्ज हुआ जो सामान्य से 2 डिग्री ज्यादा था। वहीं एक दिन पहले 12 जुलाई को अधिकतम तापमान 28.6 डिग्री रिकॉर्ड हुआ था। उस दिन बारिश भी हुई। 13 जुलाई को दिन में तेज धूप भी निकली। लेकिन सीबी क्लॉउड की वजह से रात में गरज चमक के साथ बारिश शुरू हुई। शहर में तेज बारिश होने लगी। रात में करीब 9.30 बजे शुरू हुई बारिश पहले तेज फिर धीरे-धीरे होती रही। सुबह 82.4 मिमी (8सेमी) बारिश दर्ज की गई। इतनी बारिश पिछले वर्षों में भी केवल 3 बार हुई है। वहीं इस सीजन में तो मानसून सक्रिय होने पर भी इतना पानी नहीं बरसा। 

2 सेमी और होती तो कहते ‘बादल फटना’
बिलासपुर के ऊपर सीबी क्लाउड बने है, इस कारण इतनी अधिक बारिश हुई। चक्रवात से अधिक असर सीबी क्लाउड का है। वहीं नमी भी अधिक आ रही है। कम दबाव का क्षेत्र बना और कम समय में अधिक पानी गिरा। अगर 2 सेमी और बारिश होती तो इसे मौसम की भाषा में ‘ बादल फटना’ कहते। 
"सीबी क्लाउड ज्यादातर आयनिक रहते हैं, इसलिए तेज कड़कते हैं और अंधड़ व बारिश होती है। दो दिन और बारिश की संभावना है।"
-डीपी दुबे, पूर्व निदेशक मौसम विभाग

26 जुलाई 2012 में 103 मिमी बारिश हुई थी

  • 27 जुलाई 2019 - 73.1 मिमी
  • 23 जुलाई 2018 - 43.6 मिमी
  • 16 जुलाई 2017 - 56मिमी
  • 23 जुलाई 2016- 41.6 मिमी
  • 11 जुलाई 2015 - 65.4 मिमी
  • 22 जुलाई 2014 - 89.6 मिमी
  • 10 जुलाई 2013 - 48. 6 मिमी
  • 26 जुलाई 2012 - 103.2 मिमी
  • 13 जुलाई 2011- 79.6 मिमी 
  • 1 जुलाई 2010 - 74.4  मिमी

(स्रोत-मौसम विभाग रायपुर)

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- अगर कोई विवादित भूमि संबंधी परेशानी चल रही है, तो आज किसी की मध्यस्थता द्वारा हल मिलने की पूरी संभावना है। अपने व्यवहार को सकारात्मक व सहयोगात्मक बनाकर रखें। परिवार व समाज में आपकी मान प्रतिष...

और पढ़ें

Advertisement